बीकानेर में सडक हादसा, एक घर से उठी पांच अर्थियां

बीकानेर। राजस्थान में बीकानेर जिले के श्रीडूंगरगढ़ तहसील का आडसरबास कस्बे में एक ही घर से पांच अर्थियां उठने से कस्बे में मातम छा गया।

कस्बे के लोगों ने गमगीन माहौल में एक ही परिवार के पांच लोगों को अंतिम विदाई दी। एक साथ जली पांच चिताओं को देखकर लोग गमगीन हो गए और एक-दूसरे से लिपट कर रोए।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलवार दोपहर कैम्पर और कार की टक्कर में मैना देवी (45) गायत्री देवी (40) अतुल (27) एवं सविता की मृत्यु हो गई। बीमार और पीबीएम अस्पताल में भर्ती मैना देवी के पति लालचंद सैनी हादसे को सहन नहीं कर पाये और उन्होंने भी दम तोड़ दिया।

उनके परिवार के ये सदस्य लॉकडाउन खुलने के बाद अस्पताल में उनसे कुशलक्षेम पूछने के लिए ही श्रीडूंगरगढ़ से बीकानेर के लिए रवाना हुए थे और सड़क हादसा हो गया। सभी के शव रात को ही घर पहुंचे और रात में पांचों का अंतिम संस्कार किया गया। इस घटना से गमगीन लोगों ने बुधवार को सुबह बाजार भी बंद रखे।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत हो जाने पर गहरा दुख जताया है। गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए कहा कि एक ही परिवार के पांच लोगों की मृत्यु अत्यंत दुखद है। मेरी संवेदनाएं शोकाकुल परिजनों के साथ हैं, ईश्वर उन्हें इस बेहद कठिन समय में सम्बल दें, दिवंगतों की आत्मा को शांति प्रदान करें। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना भी की।

इसी तरह पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने भी हादसे पर गहरा दुख जताते हुए कहा कि एक ही परिवार के पांच सदस्यों की मृत्यु की खबर अत्यंत दुखद एवं हृदयविदारक है। इस कठिन घड़ी मे शोक संतप्त परिजनों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं हैं। ईश्वर दिवंगत आत्माओं को शांति एवं परिजनों को संबल प्रदान करें।