मासिक बंधी लेने के दोषी थानाधिकारी समेत 5 पुलिसकर्मियों पर गिरी गाज

अलवर। अलवर जिले के नोगांवा थानाधिकारी सचिन शर्मा सहित पांच पुलिसकर्मियों को जुए सट्टे के एक मामले में गबन करने एवं मासिक बंधी लेने पर लाइन हाजिर किया है जिनमें से चार को जिले से बाहर झुंझुनू भेज दिया गया है।

पुलिस महानिरीक्षक हेमन्त प्रियदर्शी ने थाने में संगठित रुप से जुए सट्टे की कार्रवाई में राशि का गबन करने और मासिक बंधी लेने की शिकायत के बाद इस मामले की जांच करवाई थी।

जांच में दोषी पाए जाने पर उन्होंने नोगांवा थानाधिकारी सचिन शर्मा ,हैड कॉन्सटेबल भरत सिंह, राजेश शर्मा और सुगन को जिला बदर करते हुए झुंझनु भेज दिया गया है,जबकि नाहर सिंह को लाइन हाजिर किया गया।

पुलिस अधीक्षक राहुल प्रकाश ने बताया कि सोशल मीडिया पर पुलिसकर्मी और बिचोलिये के बीच बातचीत का ऑडियो वायरल होने के बाद मामले की जांच करवाई गई थीं। जिसके बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

नोगांवा क्षेत्र का राजपाल जुआ सट्टे का अवैध कारोबार करता है जिसकी एवज में पुलिस उससे मासिक बंधी लेती थी। क्षेत्र में बड़ी संख्या में सटोरिए जुआ खेल रहे थे जिसकी राशि जप्त करने के बाद पुलिस ने गबन कर कम दिखाई।

इसके बाद पुलिसकर्मी और सटोरियों के बीच मोबाइल पर बातचीत का ऑडियो वायरल हुआ जिसमें पुलिसकर्मी और सटोरियों के बीच मासिक बंधी लेन देन का जिक्र किया गया था।