वसुंधरा राजे ने तीर्थराज पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर में की पूजा अर्चना

अजमेर। राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने आज अजमेर के तीर्थराज पुष्कर में जगतपिता ब्रह्माजी के मंदिर में पूजा अर्चना की।

इसके बाद राजे पवित्र पुष्कर सरोवर के सिंधिया राजघराने के पुश्तैनी घाट ‘ग्वालियर घाट’ पहुंची जहां उन्होंने मंत्रोच्चार के साथ सरोवर का दुग्धाभिषेक किया तथा पूजा अर्चना कर सुख, स्मृद्धि व खुशहाली की कामना की।

इस दौरान पुष्कर विधायक सुरेश सिंह रावत एवं पालिका अध्यक्ष कमल पाठक भी मौजूद थे। राजे ने अपने शासन के दौरान ब्रह्मा मंदिर पर 24 करोड़ रूपए वाले एंट्री प्लाजा योजना की जानकारी भी हासिल की।

राजे अपने निर्धारित समय से कुछ विलंब से पुष्कर मेला मैदान के हैलीपेड पहुंची जहां भाजपा नेताओं ने उनका स्वागत किया। स्वागत करने वालों में पूर्व चिकित्सा मंत्री कालीचरण सर्राफ, भाजपा के वरिष्ठ नेता ओंकार सिंह लखावत, पूर्व आरपीएससी अध्यक्ष श्याम सुंदर शर्मा, विधायक अनिता भदेल, विधायक रामस्वरूप लाम्बा सहित कई पार्टी नेता शामिल थे।

राजे भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष है और वह यात्रा कर रही हैं लेकिन संगठन ने उनसे किनारा किया हुआ है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डा. सतीश पूनियां राजे की यात्रा को व्यक्तिगत यात्रा बता चुके हैं, जिसके चलते स्थानीय भाजपाई असमंजस की स्थिति में है।

ख्वाजा की दरगाह में पेश किए अकीदत के फूल

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने पुष्कर के बाद अजमेर में सूफी संत ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में हाजरी लगाकर अकीदत के फूल पेश किए। उन्होंने मजार शरीफ पर मुल्क एवं प्रदेश में खुशहाली एवं अमन की दुआ की।

भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राजे के दुआगों खादिम अफसान चिश्ती ने उन्हें जियारत कराई तथा उनकी सत्ता में वापसी, सेहतमंदी के साथ पुत्रवधु निहारिका राजे के अच्छे स्वास्थ्य के लिए दुआ की। उन्होंने राजे को हस्तनिर्मित दरगाह शरीफ की तस्वीर भी भेंट की।

राजे को दरगाह शरीफ में फलों से भी तौला गया। दरगाह में दरगाह कमेटी के सदर अमीन पठान की ओर से उन्हें गुलदस्ता भेंट कर दुपट्टा ओढाया गया तथा अंजुमन कमेटी सैयद जादगान के सदर मोईन सरकार एवं सचिव वाहिद हुसैन अंगारा की ओर से इस्तकबाल किया गया। राजे की यात्रा के दौरान दरगाह परिसर एवं दरगाह बाजार समर्थकों से भरा नजर आया।

जगह जगह राजे का भव्य स्वागत

पुष्कर से अजमेर आते समय बजरंगगढ़ स्थित अम्बे माता मंदिर, महावीर सर्किल स्थित जैन मंदिर में भी राजे ने दर्शन कर अपनी धार्मिक यात्रा को सफल बनाया। यहां से दरगाह जाते समय दिल्ली गेट पर भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चे की ओर से भव्य स्वागत किया गया। राजे की पुष्कर व अजमेर धार्मिक यात्रा में समर्थकों की भीड़ ने उनकी लोकप्रियता को साबित किया।

धार्मिक यात्रा के साथ सांत्वना कार्यक्रम

धार्मिक यात्रा के साथ सांत्वना कार्यक्रम के तहत उन्होंने अजमेर के पूर्व सांसद रासा सिंह रावत तथा पूर्व विधायक नवलराय बच्चानी के निधन बाद परिवार में पहुंचकर परिजनों से मुलाकात की और ढांढस बंधाया। साथ ही विधायक वासुदेव देवनानी की माता, पूर्व मंत्री श्रीकिशन सोनगरा की पुत्री, शहर भाजपा अध्यक्ष डॉ. प्रियशील हाडा के पिता तथा महापौर बृजलता हाडा के ससुर के निधन पर भी शोकाभिव्यक्ति करने उनके निवास गई।

वसुंधरा शनिवार को धार्मिक स्थल सलेमाबाद निम्बार्क जाएंगी

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे शनिवार को अजमेर के किशनगढ़ में धार्मिक स्थल सलेमाबाद निम्बार्क तीर्थ जाएंगी। राजे के संशोधित कार्यक्रम के अनुसार अब उनकी धार्मिक स्थलों की यात्रा अजमेर जिले के निम्बार्क पीठ यात्रा समापन के रुप में रखी गई है। आज पुष्कर-अजमेर के बाद वह रात्रि विश्राम किशनगढ़ में करेंगी तथा शनिवार सुबह सलेमाबाद में यात्रा के बाद हैलीकॉप्टर से पाली जिले में जाएंगी।