मातृ भूमि की रक्षा करने वाले स्वतंत्रता सेनानियों को भुला नहीं सकते : देवनानी

जयपुर। राजस्थान के पूर्व शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि जिन स्वतंत्रता सेनानियों ने अंग्रेजो के साथ संघर्ष किया तथा मातृभूमि की रक्षा के लिए कष्ट सहते हुए अपने प्राणों की आहूति दे दी हम आज उन्हें भुला नहीं सकते।

देवनानी ने शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा द्वारा भारतीय जनता पार्टी पर मुगलकालीन युद्धों को धार्मिक युद्ध बताने की कोशिश का आरोप लगाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि मुगल आक्रमणकारियों ने हमारे देश, शिक्षा, धर्म-संस्कृति, मंदिरों, परम्पराओं को भी तहस-नहस करने के प्रयास किए थे।

उन्होंने कांग्रेस पर इतिहास का भी तुष्टीकरण करने का आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य सरकार ने शिक्षा की गुणवत्ता एवं सुधार पर ध्यान देने की बजाय केवल संघ और राष्ट्रीय विचारधारा को नीचा दिखाने में ही सारी ताकत झोंक दी है। उन्होंने कहा कि राजस्थान की जनता हमारे गौरवशाली इतिहास से छेड़छाड़ को बर्दाश्त नहीं करेगी।

देवनानी ने कहा कि सरकार ने गत भाजपा सरकार की नकल करते हुए बिना भवनों की व्यवस्था कर महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम के स्कूल खोले है जिससे पहले से चल रही स्कूल के बच्चों के साथ अन्याय हो रहा है तथा उन्हें दूर-दराज की स्कूल में जाकर प्रवेश लेने पड़ रहे हैं।