जेफ्री बॉयकॉट और एंड्रयू स्ट्रॉस को मिली ‘नाइटहुड’ की उपाधि

former-england-cricketers Geoffrey Boycott and Andrew Strauss receive the title of 'Knighthood
former-england-cricketers Geoffrey Boycott and Andrew Strauss receive the title of ‘Knighthood

स्पोर्ट्स डेस्क इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर जेफ्री बॉयकॉट और एंड्रयू स्ट्रॉस को ‘नाइटहुड’ की उपाधि से नवाजा गया है। दोनों को सोमवार को ‘सर’ की उपाधि दी गई। पूर्व प्रधानमंत्री थेरेसा मे की इस्तीफे की सम्मान सूची में दोनों पूर्व खिलाड़ियों को खेल को अपनी सेवाएं देने के लिए ‘नाइटहुट’ दिया गया है।

78 साल के बॉयकॉट ने 1964 से 1982 तक इंग्लैंड के लिए 108 टेस्ट खेले जिसमें उन्होंने 8,114 रन बनाए और 1978 में चोटिल माइक ब्रियरली की जगह चार बार कप्तान बने थे।

वहीं दूसरी ओर, 42 साल के स्ट्रॉस ने इंग्लैंड के लिए 100 टेस्ट खेले जिसमें उन्होंने 40.91 की औसत से 7,037 रन बनाए। उन्होंने कप्तान के रूप में अपने 50 टेस्ट मैचों में इंग्लैंड को दो एशेज जीत के साथ-साथ नंबर एक टेस्ट टीम भी बनाया। बता दें, स्ट्रॉस 2015 से 2018 तक इंग्लैंड क्रिकेट के डायरेक्टर भी रहे।

उन्होंने ही साल 2015 वर्ल्ड कप के बाद इयॉन मॉर्गन को कप्तान बनाए रखने की वकालत की। इसके बाद स्ट्रॉस और मॉर्गन ने वर्ल्ड कप को ध्यान में रखते हुए जबरदस्त टीम बनाई। दोनों की रणनीति कामयाब हुई और इस साल इंग्लैंड ने पहली बार ICC वनडे वर्ल्ड कप अपने नाम किया।