दिल्ली में मृत पाए गए जम्मू-कश्मीर के पूर्व विधायक त्रिलोचन सिंह वजीर

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर विधान परिषद के पूर्व सदस्य त्रिलोचन सिंह वजीर राष्ट्रीय राजधानी में मोती नगर थाने के बसाई दारापुर के एक फ़्लैट में मृत पाए गए। पुलिस सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी दी।

वजीर गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी और जम्मू-कश्मीर परिवहन यूनियन के अध्यक्ष थे। उन्हें तत्कालीन जम्मू-कश्मीर राज्य में नेशनल कांफ्रेंस से विधान परिषद के सदस्य के रूप में नामित किया गया था।

राष्ट्रीय राजधानी के पश्चिमी दिल्ली पुलिस उपायुक्त उर्विजा गोयल ने आज बताया कि मोती नगर थाने को बसाई दारापुर के एक फ्लैट में एक शव के बारे में होने की जानकारी मिली।

पुलिसकर्मी मौक़े पर पहुंचे तो वहाँ क्षत-विक्षत हालत में एक शव मिला जिसकी पहचान त्रिलोचन सिंह वज़ीर के रूप में हुई है। वह जम्मू का रहने वाले हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक वजीर काे दिल्ली से कनाडा जाना था।

उमर ने वजीर की मौत पर दुख जताया

जम्मू- कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने गुरुवार को नेशनल कांफ्रेंस के पूर्व विधायक एवं पार्टी के वरिष्ठ नेता सरदार त्रिलोचन सिंह वजीर की नई दिल्ली में मौत पर दुख जताया है।

नेशनल कांफ्रेंस के उपाध्यक्ष ने ट्वीट किया कि विधान परिषद के पूर्व सदस्य मेरे सहयोगी सरदार टीएस वजीर के आकस्मिक निधन की खबर से स्तब्ध हूं। कुछ दिन पहले ही हम जम्मू में मिले थे, यह विश्वास नहीं हो रहा है कि मैं उनसे आखिरी बार मिला। उनकी आत्मा काे शांति मिले।

वजीर का शव आज सुबह दिल्ली के मोती नगर पुलिस थाने के बसई दारापुर के एक फ्लैट में सड़ी गली हालत में मिला। वह 67 वर्ष के थे। वह जम्मू कश्मीर गुरुद्वारा प्रबंधक बोर्ड के प्रमुख और एक ट्रांसपोर्टर थे। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि उनकी मौत के सही कारणों का पता लगाया जा रहा है।