हैदराबाद में पूर्व तहसीलदार सुजाता अपने आवास में मृत मिलीं

हैदराबाद। तेलंगाना के हैदराबाद शहर में शनिवार को पूर्व तहसीलदार सुजाता अपने आवास पर संदिग्ध परिस्थितियों में मृत पाई गई। उन्हें भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने 2020 में भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार किया था, लेकिन बाद में जमानत पर रिहा कर दिया था। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी।

सूत्रों ने बताया गया कि सुजाता को उनके आवास पर संदिग्ध परिस्थितियों में मृत अवस्था में पाया गया। उनके शव को पोस्टमार्टम के लिए गांधी अस्पताल भेजा गया है। उन्होंने बताया इससे पहले जब उनकी गिरफ्तारी हुई उसके बाद उनके पति अजय कुमार ने 2020 में आत्महत्या कर ली थी। सुजाता के जीवन में अचानक घटित घटनाक्रम के बाद वह कथित तौर पर अवसाद में चली गई थी। अब उनके परिवार में उनका पुत्र रह गया है।

उन्होंने बताया कि जून 2020 में सुजाता यहां के शैकपेट मंडल में तहसीलदार थीं। इसी दौरान उन्हें एसीबी द्वारा एक भूमि घोटाले में गिरफ्तार किया गया था और गांधी नगर में स्थित उनके घर से अवैध रूप से 24 लाख रुपए की नकदी जब्त की थी। गिरफ्तारी के बाद सुजाता को चंचलगुडा में महिलाओं की विशेष जेल में बंद कर दिया गया था। बाद में उन्हें अंतरिम जमानत पर रिहा कर दिया गया था।