त्रिपुरा में जनजातीय लडकी से छेड़खानी के आरोप में चार अरेस्ट

अगरतला। त्रिपुरा के अगरतला में दुर्गा पूजा से घर लौटते समय जनजातीय लड़की के साथ छेड़खानी के आरोप में गुरुवार रात चार लोगों को गिरफ्तार किया।

रानिरबाजार थाने के अंतर्गत ललित बाजार इलाके के पास कालकापुर में 17 अक्टूबर की रात एक जनजातीय लड़की के साथ दुर्गापूजा के बाद घर लौटते समय चारों लोगों ने छेड़खानी की थी।

पुलिस ने बताया कि पीड़ित पक्ष की ओर से छेड़खानी की शिकायत मिलने के बाद सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने हालांकि सोशल मीडिया के उन उपयोगकर्ताओं को चेतावनी दी है जो सांप्रदायिक अभियान को बिगाड़ने में जानबूझकर लिप्त हैं।

पश्चिम त्रिपुरा के पुलिस अधीक्षक अजीत प्रताप सिंह ने कहा कि एक निहित स्वार्थ वाला समूह सोशल मीडिया में इस तरह की अफवाह फैला रहा है कि कुछ गैर जनजातीय लोग इस घटना में लिप्त हैं और एक जनजातीय समह के लोगों ने ललित बाजार के कालकापुर इलाके में दो-तीन बंगाली मुस्लिम घरों में आग लगा दी जो कि पूरी तरह से झूठी अफवाह है।

सिंह ने पत्रकारों से कहा कि पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद तुरंत आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और घटना की जांच शुरू कर दी गयी है। पीड़िता के साथ कोई दुष्कर्म नहीं हुआ है और न ही ऐसी कोई रिपोर्ट है। इस तरह के दुर्भावनापूर्ण अभियान से बचने के लिए फेसबुक समूह के एक व्यवस्थापक को भी चेतावनी जारी की गई थी।