कानपुर में दरोगा की बेटी से गैंगरेप करने वाले चारों आरोपी अरेस्ट

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर में पुलिस उपनिरीक्षक की नाबालिग पुत्री के साथ सामूहिक बलात्कार करने वाले चारों आरोपियों को पुलिस ने पकड लिया है। पुलिस सूत्रों ने गुरुवार को बताया कि काकादेव पुलिस ने चार आरोपियों अनुराग, जैकी शुभम और अभिषेक पुलिस गिरफ्त में हैं।

गौरतलब है कि कानपुर में तैनात एक पुलिस उपनिरीक्षक की 15 वर्षीय पुत्री जो 11वीं में पढ़ती थी के साथ चार इंजीनियरिंग के छात्रों ने ने मंगलवार देर रात घटना को अंजाम दिया था। बाद में आरोपी अर्ध बेहोशी की हालत में छात्रा को बाबूपुरवा थाने के सामने फेंककर फरार हो गए थे। राहगीरों ने पुलिस को लड़की के पड़े होने सूचना दी थी।

पुलिस ने पीडित छात्रा को यशोदा नगर स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। मामले की जानकारी मिलते ही वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनंत देव, पुलिस अधीक्षक पश्चिम संजीव सुमन, पुलिस उपाधीक्षक, फारेंसिक टीम के साथ पहुंचे।

पीड़िता ने आलाधिकारियों को शुरुआती बयान में बताया कि मंगलवार को वह अपनी सहेली के साथ कॉलेज गई थी जहां इंजीनियरिंग कर रहा अनुराग नामक छात्र बहला-फुसलाकर काकादेव के गीता नगर स्थित आभा अपार्टमेंट ले गया। अपार्टमेंट में पहले से मौजूद उसके तीन अन्य साथी जैकी, अभिषेक और शुभम मौजूद थे।

इस मामले में काकादेव पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कराई थी। पुलिस के मुताबिक सभी आरोपी छात्र एमटेक और बीटेक के छात्र हैं और उनमें से एक छात्र पुलिस कर्मी का बेटा है।