अलवर : गत्ता फैक्ट्री में टैंक की सफाई के लिए उतरे मालिक सहित 5 की मौत

Four laborers die due to suffocating in cardboard factory tank cleaning in Alwar

जयपुर। अलवर जिले के खुसखेड़ा थाना इलाके में गत्ता बनाने वाली एक फैक्ट्री में टैंक की सफाई करते समय फैक्ट्री मालिक सहित पांच श्रमिकाें की मौत हो गई।

पुलिस के अनुसार हादसा रविवार सुबह करीब नौ बजे श्री कृष्णा एटरप्राजेस कंपनी में हुआ। बताया जाता है कि कंपनी में लगभग 20 फीट गहरा टैंक बना हुआ है जिसमें पाईप उतारने के दौरान एक के बाद एक करके श्रमिक उतरे लेकिन सभी श्रमिक टैंक में अचेत होकर गिर गए।

श्रमिकों के बाहर नहीं आने पर कंपनी में कार्य कर रहे अन्य मजदूरों में अफरा तफरी मच गयी और आनन फानन में उन श्रमिकों को बाहर निकाला तब तक राजू (20) राममूर्ति (25) लखन सैनी (30) तथा विकास (30) की मौत हो चुकी थी और कम्पनी के मालिक विजयेन्द्र को अचेत अवस्था में अस्पताल में दाखिल कराया गया। हालात बिगडने पर उसे गुडगांव स्थित मेदान्ता अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसने शाम को दम तोड दिया।

पुलिस के अनुसार फैक्ट्री में दस बाई 20 फीट का गत्ते गलाने का टैंक बना हुआ था जिसमें लगे पाईप के खराब होने के कारण कर्मचारी टैंक में उतरे थे। प्रांरभिक जांच के अनुसार टैंक में जहरीली गैस हो सकती है जिसकी चपेट में आने से यह हादसा हुआ।

पुलिस ने सभी मृतकों के शवों को अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया है और मृतकों के परिजनों को सूचित कर दिया है जिनके आने के बाद पोस्टमार्टम किया जाएगा।