कोहरे के कारण दिल्ली में 5 भारोत्तोलकों की दुर्घटना में मौत

Four powerlifting players killed in a road accident due to fog at singhu border
Four powerlifting players killed in a road accident due to fog at singhu border

नई दिल्ली। दिल्ली-हरियाणा सीमा के पास रविवार को घने कोहरे के कारण एक कार दुर्घटना में राष्ट्रीय स्तर के पांच भारोत्तोलकों की मौत हो गई और एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। घायल हुए दो भारोत्तोलकों में एक विश्व चैम्पियन शामिल है। पुलिस ने यह जानकारी दी। यह दुर्घटना दिल्ली और हरियाणा के बीच सिंधु सीमा के नजदीक दिल्ली के अलीपुर गांव के पास सुबह करीब 4 बजे हुई।

सक्षम यादव का एम्स में इलाज चल रहा था। शाम को उनके मृत होने की जानकारी मिली। सक्षम ने भारोत्तोलाक चैम्पियनशिप-2017 में स्वर्ण पदक हासिल किया था 19 साल के रोहित अभी भी अपनी जंग लड़ रहे हैं।

भारोत्तोलाक दिल्ली-पानीपत राष्ट्रीय राजमार्ग -1 पर एक स्विफ्ट डिजायर कार में यात्रा कर रहे थे। पुलिस का मानना है कि कोहरे के कारण दृश्यता कम थी, लेकिन फिर भी कार तेज गति से चल रही थी।

दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि इस दुर्घटना में मारे गए भारोत्तोलकों की पहचान टीकमचंद (27), योगेश (24), हरीश रॉय (20) और सौरभ (18) के रूप में हुई है। शाम तक इन्हीं के मृत होने की जानकार मिली थी। लेकिन इसके बाद चिक्तिसकों ने सक्षम को भी मृत घोषित कर दिया।

इन पीड़ितों को नरेला के राजा हरीशचंद्र अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने इन्हें मृत घोषित कर दिया। वहीं यादव और रोहित को मैक्स अस्पताल में ले जाया गया जिन्हें बाद में एम्स अस्पताल के ट्रामा सेंटर में स्थानांतरित कर दिया गया।

यादव की हालत गंभीर थी, क्योंकि उन्हें कई चोटें आई थीं। उनके सिर के अंदरुनी हिस्से में खून बह रहा था। आधिकारी के अनुसार कार पहले डिवाइडर से टकराई और फिर एक बिजली के खंभे से भिड़ गई। दुर्घटना इतनी जोरदार थी कि उसके कारण कार की छत तक उड़ गई।

अधिकारी ने कहा कि इस दुर्घटना में मारे गए और घायल हुए सभी भारोत्तोलक हरियाणा के हैं और वे उत्तरी दिल्ली के तिमारपुर इलाके में अलग-अलग स्थानों पर रहते थे। वे सभी शनिवार को रोहित का जन्मदिन मनाने के लिए करनाल (हरियाणा) गए थे।

उन्होंने कहा कि प्रथम दृष्टया, ऐसा प्रतीत होता है कि कार की गति काफी तेज थी। इस कारण चालक बिजली के खंभे को नहीं देख पाया। कार से शराब की बोतलें भी बरामद हुई हैं। इसलिए संभवत: यह नशे में गाड़ी चलाने का मामला भी है। यह दुर्घटना तब हुई जब वे सभी दिल्ली लौट रहे थे।