स्मार्ट सिटी अजमेर के 6 स्थानों पर फ्री वाई-फाई सेवा

अजमेर। स्मार्ट सिटी अजमेर में विभिन्न छह अलग-अलग स्थानों पर बुधवार से फ्री वाई-फाई सेवा आरंभ की गई है। शहर में ऐसे स्थानों का चयन किया गया है जहां पर भीड़-भाड़ अधिक रहती है। कोई भी व्यक्ति अपने स्मार्ट फोन, टेबलेट या लैपटॉप पर वाईफाई सेवा का लाभ उठा सकता है।

अजमेर स्मार्ट सिटी द्वारा आनासागर लिंक रोड पुरानी चौपाटी, रीजनल कॉलेज चौपाटी, पुष्कर रोड स्थित पुरानी विश्राम स्थली लेकफ्रंड बर्ड पार्क, सागर विहार बर्ड पार्क, वैशाली नगर स्थित अरबन हाट और कोटड़ा स्थित विवेकानंद स्मारक पर निशुल्क वाई-फाई सेवा आरंभ की गई है।

उल्लेखनीय है कि स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत उक्त स्थान विकसित किए गए हैं। यहां पर प्रतिदिन शहरवासियों के साथ देशी-विदेशी पर्यटकों की खासी भीड़ रहती है। कलक्टर एवं अजमेर स्मार्ट सिटी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अंश दीप, एडीए आयुक्त अक्षय गोदारा और एडीए के चीफ इंजीनियर अनिल गुप्ता ने वैशाली नगर स्थित अरबन हाट पर फ्री वाई-फाई सेवा शुरू किए जाने की जानकारी ली। इस मौके पर अजमेर स्मार्ट के अधिकारी एवं बीएसएनएल अधिकारी मौजूद थे

50 एमबीपीएस की मिलेगी स्पीड

बीएसएनएल वाई-फाई सेवा बुधवार से आरंभ की गई है। चयनीत छह स्थानों में से किसी भी स्थान पर जाकर यूजर्स सेवा का लाभ ले सकेंगे।

यह रहेगी प्रक्रिया…

स्टेप-1. यूजर्स अपने स्मार्ट फोन, टेबलेट या लेपटॉप में वाई-फाई ऑन करेंगे और बीएसएनएल वाई-फाई ब्ल्यूटाउन का चयन करेंगे।

स्टेप-2. आपका नाम व नंबर अंकित करना होगा।

स्टेप-3. जैसे ही यह प्रक्रिया पूरी होगी तो आपकी डिवाईस पर ओटीपी आएगा। ओटीपी प्रोसेस को पूर्ण करने के बाद स्वत: ही आप कनेक्ट हो जाएंगे।

जारी किया हैल्प लाइन नंबर

इस प्रक्रिया को एक बार ही करना है, यदि आप दूसरी बार उसी लोकेशन पर आते अपने आप ही आपकी डिवाइस कनेक्ट हो जाती है। इस प्रक्रिया को पूरा करने में किसी प्रकार की कोई तकनीकी परेशानी आती है तो बीएसएनएल ने हैल्पलाइन नंबर 9458537545 जारी किया है।

एक से डेढ़ किमी रहेगी दूरी

बीएसएनएल अधिकारियों ने बताया फ्री वाई-फाई की रेंज करीब एक से डेढ़ किमी है। यूजर्स आसानी से एक से दूसरी स्थान पर आ जा सकेंगे। उन्हें किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होगी। एक स्थान पर 50 से 100 यूजर्स सर्फिंग कर सकेंगे। बीएसएनएल अधिकारियों द्वारा प्रत्येक सप्ताह जांच की जाएगी। कितने यूजर्स लॉगइन कर रहे हैं और कितना डाटा यूज हो रहा है। समय-समय पर सिस्टम को अपग्रेड भी किया जाएगा।