प्रणव मुखर्जी ने आरएसएस को आईना दिखाया : कांग्रेस

from disquiet to relief : congress says Pranab Mukherjee showed RSS the mirror

नई दिल्ली। कांग्रेस ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी को राष्ट्रीय स्वयं सेवकसंघ से मिले आमंत्रण को लेकर तरह तरह की बातें होती रहीं हैं लेकिन अंत में उन्होंने सहिष्णुता तथा बहुलतावाद की याद दिलाकर संघ को आईना दिखाया है।

कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने यहां जारी एक बयान में कहा कि पूर्व राष्ट्रपति ने कहा है कि सहिष्णुता, बहुलतावाद, धर्मनिरपेक्षता तथा सबके प्रति समान भाव हमारी विशेषता है। उन्होंने संघ के मुख्यालय में इन सब सिद्धांतों का जिक्र करके आरएसएस को आईना दिखाया है।

उन्होंने कहा कि मुखर्जी ने मोदी सरकार को भी स्मरण दिलाया कि उसे राजधर्म का पालन करना चाहिए। उन्होंने विशेष रूप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संदेश दिया कि लोगों की खुशी शासक की खुशी होती है तथा आम लोगों का कल्याण ही सबसे बडा कल्याणकारी कार्य होता है।

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि आरएसएस को पूर्व राष्ट्रपति को आमंत्रित करके संघ को यह नही समझना चाहिए कि उसे राजनीतिक शुचिता मिल गई है।

प्रणव मुखर्जी से नहीं थी यह उम्मीद : अहमद पटेल

संघ संस्थापक हेडगेवार भारत मां के सच्चे सपूत : प्रणब मुखर्जी

सहिष्णुता हमारी सबसे बड़ी पहचान : प्रणव मुखर्जी