वेब होस्टिंग के बारे में पूरी जानकारी | FULL INFORMATION ABOUT WEB SERVER

FULL INFORMATION ABOUT WEB SERVER
FULL INFORMATION ABOUT WEB SERVER हिंदी

नॉन लाइव वेब होस्टिंग कैसे लेते है | non live web hosting

नमस्कार दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं वेब होस्टिंग और सर्वर की और उसमें भी कुछ खास नॉन लाइव वेबसाइट होस्टिंग क्या होती है और इसे कैसे प्राप्त कर सकते हैं और यह क्यों जरूरी होती है।

नॉन लाइव वेबसाइट होस्टिंग की जरूरत तब पड़ती है जब आप केवल सरवर को अपने किसी खास इस्तेमाल के लिए लेना चाहते हैं जिसमें क्या आपका भी डोमेन लाइव नहीं करते आप केवल सरवर ले लेते हैं और उस सरवर को अपने एप्लीकेशन के साथ एसएसबी कारण साथ में उसे लिया है उस मकसद को पूरा करते हैं।

कहां से मिलेगी नॉन लाइव वेब होस्टिंग सर्वर | buy non live web hosting

नॉन लाइव वेब होस्टिंग सर्वर लेना कोई मुश्किल काम नहीं होता आपको बस अपने सरवर प्रोवाइडर से या आप इस लाइन में रहे हैं तो आपको किसी का अच्छा सर्वर का पता करना है जो कि सरवर प्रोवाइड करता है। उसके बाद आपको बताना है कि मुझे बिना डोमेन के सरवर लेना है और मुझे अपने पर्सनल काम के लिए सरवर की जरूरत है तो इसके द्वारा आप नॉन लाइव सर्वर ले सकते हैं।  और उसका इस्तेमाल भी कर सकते हैं आपकी मदद के लिए नीचे कुछ सर्वर प्रोवाइडर के बारे में दिया गया है जहां से आप इसकी पूरी जानकारी ले सकते हैं

आखिर सरवर कितना ट्रैफिक सह सकता है | server traffic capacity

सर्वर पर कम डाउन टाइम कब आता है और कब नहीं और आखिर सरवर कितना ट्रैफिक सह सकता है अगर अगर बात करें सरवर पर ट्रैफिक तो आपको बता दें सरवर पर ट्रैफिक का आना अच्छी बात होती है लेकिन अगर आपके मन में यह सवाल है कि आखिर कोई सर्वर कितना ट्रैफिक सह सकता है तो इसका उचित जवाब देना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है क्योंकि यह सारी चीज है केवल सर्वर पर निर्भर नहीं करती हैं यह इस चीज पर भी निर्भर करती है कि आखिर आपने सर्वर का स्पेसिफिकेशन क्या रखा है और वह किन हार्डवेयर और किन मशीनों का इस्तेमाल उसमें किया गया है उसके बाद आप के सरवर की क्वालिटी पर भी निर्भर करता है कि वह किस तरह का सर्वर है तो यह कह पाना मुश्किल होगा सरवर पर या एक सर्वर का ट्रैफिक सकता है चाहे वो किसी भी प्रकार का सरवर हो चाहे वह Y2KSOLUTION का हो या अमेजॉन का सरवर हो या गूगल का सर्वर इस केस में डाउन टाइम होता है।

उम्मीद है आप समझ गए होंगे चाहे कोई सा भी सर्वर डाउन टाइम आना तो निश्चित है हां यह जरूर हो सकता है किसी सरवर का कम और किसी पर ज्यादा डाउन टाइम आता है ।

सर्वर पर डाउन टाइम ना आये  क्या करें | fix server down time

सर्वर पर आपके डाउनटाइम ना आये क्या ऐसा हो सकता है या नहीं तो आपको दें की ऐसा हो सकता है इसके  एक अच्छा खासा बजट लेकर चलना पड़ेगा और एक अच्छे सर्वर प्रोवाइडर जरुरत होगी जोकि आपकी इसमें मदद  और आपको अछि सलाह दे और इसके लिए जिस क्रिया का काम किया जाता है उसे रेडेंडेंट आर्किटेक्चर  हैं।

डोमेन होस्टिंग कितनी देर में लाइव हो जाती है | time to website live

आप में से कई लोग इस बारे में जानना चाहते होंगे कि जब आप डोमेन और होस्टिंग लेते हैं और इसके लिए वेबसाइट बनाते हैं तो यह कितनी देर में लाइव हो जाती है या यूं कहें की फ्री डोमेन होस्टिंग कितने दिन में कनेक्ट होता है इस तरह के सवाल हमारे पास काफी ज्यादा आ चुके हैं इसके लिए हम आपको बता रहे हैं कि डोमेन और होस्टिंग कनेक्ट करने का टाइम कोई ज्यादा नहीं होता यह तो  हाथो हाथ हो जाता है इसके लिए डोमेन प्रोवाइडर की तरफ से जो समय निर्धारित किया होता है वह टाइम है 24 घंटे से 48 घंटे लेकिन आजकल इतना समय लगता नहीं है यह ना आमतौर पर आधे घंटे के अंदर या उससे पहले हो जाता है और यदि कभी कभी समय अधिक भी लगता है तब भी इसमें कोई ज्यादा समय नहीं लगता और समय पर आपके डोमेन और होस्टिंग लाइव हो जाती है अधिक जानकारी के लिए दिए गए होस्टिंग प्रोवाइडर से जुड़िए और अपने सवाल पूछे।

शेयर्ड होस्टिंग क्या है और यह कैसे काम करती है | how shared hosting work

सरवर में शेयर्ड होस्टिंग क्या होती है और आखिर यह कैसे काम करती है और यह वेबसाइट के लिए काम आती है इसके बारे में आज के आर्टिकल में आपको बताएंगे जैसा कि नाम से ही समझ में आता है शेयर्ड होस्टिंग मतलब कुछ ऐसे होस्टिंग जो कि बटी हुई हो तो आपको बता दें शेयर्ड होस्टिंग में एक पैरंट सरवर होता है जिसमें से उसी सरवर के कहीं अलग अलग टुकड़े एक ब्लॉक की तरह बना दिए जाते हैं और उन टुकड़ों को अलग अलग वेबसाइटों के लिए इस्तेमाल किया जाता है यानी एक ही सरवर के अलग-अलग टुकड़ों को यानी आप कह सकते हैं कि एक ही सरवर के कहीं अकाउंट बनाकर अलग अलग वेबसाइट चलाना ऐसे वातावरण को शेयर्ड होस्टिंग या शेयर्ड  सर्वर कहते हैं।

कैसे पता करें की सर्वर कौनसा है | how to identify my server

शेयर्ड होस्टिंग से जरूरी एक यह बात भी हैं यदि आपको पता लगाना हो की आप या कोई और जो वेबसाइट का इस्तेमाल कर रहा है वह आखिर शेयर्ड सर्वर पर है या डेडीकेटेड सर्वर पर तो आपको बता दें शेयर्ड सर्वर का आईपी किसी अन्य वेबसाइट को भी दिया जा सकता है लेकिन डेडीकेटेड आईपी पर एक बार में केवल एक ही अकाउंट चलेगा तो यह आपस में बहुत ही बड़ा अंतर है शेयर्ड होस्टिंग और डेडीकेटेड हॉस्टल में अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए होस्टिंग प्रोवाइडर से अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं यह आपको पूरी जानकारी हिंदी में ही समझा देंगे।

वेब होस्टिंग कितने टाइप की होती है | type of web hosting

आप में से कई लोगों के मन में सवाल होता है वेब सर्वर या वेब होस्टिंग कितने टाइप की होती है ? वेब होस्टिंग तीन तरह की होती हैं पहली होती है शेयर्ड वेब होस्टिंग दूसरी वीपीएस होस्टिंग तीसरी डेडीकेटेड होस्टिंग।

शेयर्ड सर्वर के बारे में | shared server

शेयर्ड सरवर के बारे में हम पहले से ही आपको बता चुके हैं लेकिन फिर भी आपको एक छोटी जानकारी शेयर्ड सरवर के बारे में दे देते हैं ई शेयर्ड सर्वर वह होता है जिसमें की आपको एक सरवर पर एक ही आईपी से एक से ज्यादा अकाउंट बना कर दी दिए जाते हैं उसमें अब अपने वेबसाइट चला सकते हैं इसकी कीमत दूसरे सरवर से काफी कम होती है।

वीपीएस सर्वर के बारे में | VPS server hosting

वीपीएस सर्वर मैं आपको एक सरवर के अंदर ही नया IP बनाकर आपको एक सेपरेट अकाउंट दे दिया जाता है जिसमें आपका आईपी ऐड्रेस यूनिक होता है जिसके चलते ना केवल आपका आईपी यूनिक होता है बल्कि आपकी RAM और हार्डवेयर के कई हिस्से आपके लिए यूनिक होते हैं इसकी कीमत शेयर्ड सर्वर से अधिक होती है।

डेडीकेटेड सर्वर के बारे में | dedicated server hosting

डेडीकेटेड सर्वर में आपका सरवर पूरी तरीके से आपके लिए ही होता है जिसमें की एक आईपी ऐड्रेस होता है जो पुरी तरीके से यूनिक होता है और उसमें लगा पूरा हार्डवेयर आपके लिए ही काम करता है इसकी कीमत शेयर्ड सर्वर से और वीपीएस सर्वर से आमतौर पर अधिक होते हैं बाकी यह सब चीजें इस पर भी निर्भर करती है कि आपने किस प्रकार के हार्डवेयर का सर्वर खरीदा है।

FULL-INFORMATION-ABOUT-WEB-HOSTING-PROVIDER
FULL-INFORMATION-ABOUT-WEB-HOSTING-PROVIDER