तीन इन्जिनियर एक टेढ़े मेढ़े पाइप में से तार डालने कि कोशिश कर रहे थे

funny jokes may month banta and lajo aur doctor and lajo
funny jokes may month banta and lajo aur doctor and lajo

तीन इन्जिनियर एक टेढ़े मेढ़े पाइप में से
तार डालने कि कोशिश कर रहे थे,

एक गांव वाला 5 दिन से ये सब देख रहा था

5 वें दिन वो बोला:- मै करू साब ??

वो बोले:- हम 5 दिन से कोशिश कर रहे हैं,
हमसे तो हुआ नहीं, तु कैसे निकालेगा ?

चल तु भी कोशिश करले……

गाँव वाला बोला:- ठीक

गाँव वाला खेत मे गया एक चूहा लाया उसकी पूँछ मे तार बान्धा चूहे को पाईप मे डाला

चूहा दुसरी तरफ से तार के साथ बाहर निकल गया।

तब सालो को पता चला डिग्री कि तो कोइ वेल्यु ही नही है।

😁😃😜😳😷😁😃😜😳

===============================

टीचर:– बंता तू खड़ा हो,
मैं जो भी पूछूं फटाफट जवाब देना

बंता:– ठीक है मैम

टीचर:– हमारा राष्ट्रीय पशु कौन है ?

बंता:– फटाफट 🙂 😉

बस हो गयी पप्पू की धुनाई 🙂 😉

===============================

पत्नी उदास बैठी थी

पति – तबियत ठीक नहीं है क्या ?
डॉक्टर को दिखा लो

पत्नी – दिखाया था डॉक्टर को

पति – क्या बताया उसने ?

पत्नी – बोल रहा था…
ब्लड में शॉपिंग की कमी है
थोड़ा मॉल वगैहरा घूम कर आओ
मूड बदलेगा तो ठीक हो जाओगी 🙂 🙂

पति बेहोश 🙂

===============================

इंटरव्यूअर – मैं तुमसे सिर्फ एक ही सवाल पूछूंगा
बताओ जिंदगी में क्या खोया है और क्या पाया है ?

स्मार्ट लड़का –

सर जिससे मिठाई बनती है तो खोया है
और जो चारपाई में लगा होता है वो पाया है

इंटरव्यूअर बेहोश होते होते बचा

इंटरव्यूअर – जिंदगी में कोई मुश्किल आयी तो क्या करोगे ?

स्मार्ट लड़का – सर किसान के पास जाऊंगा

इंटरव्यूअर – क्यों ?

स्मार्ट लड़का – क्यूंकि उसके पास हल है 🙂 :p

इंटरव्यूअर बेचारा बेहोश होकर गिर पड़ा 🙂

===============================

लाजो:- सुनो जी आज से तुम रोजाना शराब पिया करो

बंता:– क्यों ?

लाजो:- क्यूंकि आप नशे में ज्यादा काम करते हो….

बंता:– मैं कुछ समझा नहीं ?

लाजो:- अरे कल तुम शराब पीकर आये तो
नशे में सारे गंदे पड़े बर्तन धो डाले
और तो और… आपने मेरे पाँव भी दबाये 🙂 🙂

===============================

डॉक्टर:- डिप्रेशन की पेशेंट से-

क्या तकलीफ़ है..?

लाजो:- सर, दिमाग में बहुत उल्टे पुलटे
विचार आते हैं, रुकते ही नहीं…

डॉक्टर:- कैसे विचार आते हैं ..?

लाजो:- जैसे अब मैं यहाँ आई हूँ तो आपके

ओपीडी में एक भी पेशेंट नहीं था.. तो मैं सोचने लगी

कि डॉक्टर साहब के पास कोई भी पेशेंट नहीं है,

इनकी कमाई कैसे होगी, घर कैसे चलेगा, इतना पैसा

डाला पढ़ाई में, अब क्या करेंगे.. हॉस्पिटल बनाने में

भी बहुत पैसा लगाया होगा, अब लोन कैसे

चुकाएंगे ? कहीं किसानों के माफ़िक लटक तो नहीं

जाएंगे एक दिन…!! ऐसे कुछ भी विचार आते रहते हैं…

अब डॉक्टर डिप्रेशन मे है।

===============================