सादडी में गणपति बप्पा का गाजे बाजे के साथ विसर्जन

पाली/सादड़ी। गणेश महोत्सव के समापन पर रविवार को नगर भर में विभिन्न स्थानों से गणपति बप्पा की विसर्जन यात्रा धूमधाम से निकाली गई।

छतरियां महादेव गणपति मण्डल के प्रबंधक दिनेश सेन ने बताया कि यूको बैंक की गली में व्यापारियों द्वारा गत चार वर्षों से गणपति बप्पा को स्थापित कर बड़े धूमधाम से विसर्जित कर रहे है।

इसी कड़ी में रविवार को गणपति विसर्जन के मौके पर आमंत्रित अतिथि (पूर्व उपाध्यक्ष सुखाड़िया विश्वविद्यालय उदयपुर) एडवोकेट कुलदीप शर्मा एवं निखिल गांधी के द्वारा गजानन्द की महाआरती हुई। मण्डल के सदस्यों द्वारा अथितियों को तिलक व गणपति दुप्पटा पहनाकर स्वागत किया गया।

शोभायात्रा में गणपति बप्पा की जय-जयकार के साथ केसरिया गुलाल में लोग रंगे हुए नजर आए। भगवान गणेश जी की पूजा अर्चना के बाद भारी संख्या में महिलाएं विसर्जन के लिए नाचते गाते हुए काफिले के रूप में रवाना हुईं।

इस दौरान महिलाओं ने गणेश जी महाराज का गुणगान किया और भजनों की धुनों पर खूब नृत्य किया। गणपति बप्पा मोरया, अगले वर्ष तू जल्दी आ के उदघोष से आसमान गूंज उठा।

गणपति महोत्सव के समापन पर डीजे और ढोल नगाड़े के साथ भव्य यात्रा निकालकर गणेशजी को राणकपुर सूर्यमन्दिर के पीछे नदी में विसर्जित किया गया। इस मौके मनोहर सेन, मुकेश सेन, राजू धोबी, अशोक सेन, पिन्टूसेन, पारस प्रजापत, महेश वसेटा, भूराराम मेघवाल, विमल जिंगर के साथ मण्डल के सभी लोग उपस्थित रहे।

गणेशोत्सव की शुरुआत भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को होती है और फिर अनंत चतुर्दशी के दिन गणेश भगवान की मूर्ति का विसर्जन कर दिया जाता है। कुछ लोग 3 से लेकर 11 दिनों में अपनी क्षमता के अनुसार उनको विसर्जित करते हैं।