गाजियाबाद में पांच सफाई कर्मियों की दम घुटने से मौत, जांच के आदेश

Verified Apps to watch T20 World Cup 2022 Live Stream
Ghaziabad : Five sanitation workers die of suffocation while cleaning sewer in nandgram

गाजियाबाद। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के गाजियाबाद जिले के सिहानी गेट थाना इलाके की नंदग्राम कालोनी में गुरुवार को सीवर की सफाई करने उतरे पांच कर्मचारियों की दम घुटने से दर्दनाक मौत हो गई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मृतकों के आश्रितों को दस-दस लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने और मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार आज दोपहर यह कर्मचारी सीवर की सफाई करने के लिए उतरे थे और दम घुटने से उनकी मौत हो गई। मृतक जल निगम में ठेकेदारी के तहत काम कर रहे थे।
आदित्यनाथ ने हादसे पर शोक व्यक्त करते हुए मृतकों के आश्रितों को 10-10 लाख रुपए की आर्थिक सहायता और जल निगम के प्रबंध निदेशक को घटना के कारणों की जांच कर दो दिन में रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

उत्तर प्रदेश जल निगम के अधिकारी जीएस श्रीवास्तव ने बताया कि नंदग्राम इलाके के कृष्णाकुंज में बीते दिनों नई सीवर लाइन डालने का कार्य हुआ था। यह काम ईएमएस इंफ्राकाॅम को दिया गया था। आज सुबह कंपनी के कर्मचारी लाइन में काम करने के लिए उतरे। एक-एक कर पांच लोग सीवर लाइन में नीचे गए और बाहर नहीं आए।

बाद में अन्य कर्मचारियों ने दोपहर करीब डेढ़ बजे सीवर में उतरे पांचों कर्मचारियों को बाहर निकाला और उन्हें पास के मरियम अस्पताल में ले गए जहां डॉक्टरों ने तीन को मृत घोषित कर दिया जबकि अन्य दो की इलाज के दौरान मौत हो गई। पांचों की मौत की सूचना थाना सिहानी गेट को दी गई। पुलिस ने सभी मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। मृतक किसके कहने पर सफाई के लिए सीवर में उतरे थे। कर्मचारियों के पास सुरक्षा उपकरण थे कि नहीं यह सब जांच का विषय है।

कुमार ने बताया कि पहले दो लोग नीचे उतरे जब वह लौट कर नहीं आए तो एक कर्मचारी को फिर उतरा वह भी लौट कर नहीं आया। इसके बाद दो अन्य कर्मचारी पहले उतरे कर्मचारियों की तलाश में नीचे गए किंतु वह भी वापस ऊपर नहीं आए। इसके बाद सीवर लाइन में उतरे पांचों कर्मचारियों को अन्य कर्मचारियों की मदद से बाहर निकला गया।