गुलाम इसाकजई ने संरा महासभा में संबोधन से पहले नाम लिया वापस

संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त राष्ट्र में अफगानिस्तान के स्थायी प्रतिनिधि रहे गुलाम इसाकजई ने संरा महासभा में संबोधन से पहले अपना नाम वापस ले लिया।

इसाकजई को संरा महासभा को इसके 76वें सत्र के आखिर दिन सोमवार को संबोधित करना था, लेकिन इससे पहले उन्होंने अपना नाम वापस ले लिया। महासचिव एंटोनियो गुटेरेस के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने सोमवार को इसकी पुष्टि की।

पाकिस्तानी अखबार डॉन की रिपोर्ट के अनुसार इसाकजई का नाम वक्ताओं की सूची से सोमवार को हटा दिया गया। दुजारिक ने कहा कि अफगानिस्तान ने आम बहस में अपनी भागीदारी वापस ले ली है। उन्होंने बताया कि इसाकजई ने संबोधन से अपना नाम वापस लेने की वजह नहीं बताई है।

उल्लेखनीय है कि तालिबान ने गत सप्ताह संरा महासचिव एंटोनियो गुटेरेस को एक पत्र लिखा था, जिसमें उनसे अफगानिस्तान के नए विदेश मंत्री आमिर खान मुत्तकी संरा महासभा की कार्यवाही में भाग लेने की इजाजत देने की गुजारिश की गई थी। पत्र में जोर देकर कहा गया था कि इसाकजई वैश्विक निकाय में अफगानिस्तान का अब प्रतिनिधित्व नहीं करते हैं।

तालिबान की ओर से गुटेरेस को लिखे गए पत्र में कहा गया था कि तालिबान ने अपने दोहा स्थित कार्यालय के प्रवक्ता सुहैल शाहीन को संयुक्त राष्ट्र में अफगानिस्तान के स्थायी प्रतिनिधि के रूप में नामित किया है। गौरतलब है कि गुलाम इसाकजई अफगानिस्तान की निर्वाचित सरकार के स्थायी प्रतिनिधि थे।