गूगल ने महाश्वेता देवी को समर्पित किया डूडल

Google Doodle pays tribute to Mahasweta Devi on her 92ns birth anniversary

नई दिल्ली। सर्च इंजन गूगल ने रविवार को जानी-मानी लेखिका व सामाजिक कार्यकर्ता महाश्वेता देवी को उनकी 92वीं जयंती पर अपने डूडल के जरिए श्रद्धांजलि दी।

14 जनवरी 1926 को ढाका (बांग्लादेश) में जन्मी महाश्वेता देवी बंगाली लेखिका थीं, जिन्हें कई साहित्य पुरस्कारों जैसे साहित्य अकादमी अवॉर्ड (बंगाली), ज्ञानपीठ अवॉर्ड, रमन मैगससे अवॉर्ड से नवाजा गया। उन्हें पद्मश्री और पद्म विभूषण से भी सम्मानित किया गया। 28 जुलाई 2016 को कोलकाता में उनका निधन हो गया।

उनकी प्रसिद्ध साहित्यिक रचनाओं में ‘हजार चुराशिर मां’, ‘रुदाली’ और ‘अरण्येर अधिकार’ शामिल हैं। महाश्वेता देवी ने 100 से ज्यादा उपन्यास लिखे। उनका पहला उपन्यास ‘झांसीर रानी’ था। झांसी की रानी लक्ष्मीबाई पर आधारित यह उपन्यास 1956 में प्रकाशित हुआ था।

पत्रकारिता, साहित्य और रचनात्मक संचार कला में योगदान देने के लिए साल 1997 में उन्हें रमन मैगसेसे अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। महाश्वेता देवी को साहित्य में योगदान देने के लिए 2003 में प्रतिष्ठित पुरस्कार ‘ऑरद्रे देस आर्ट्स एत देस लेटर्स’ से भी सम्मानित किया गया था।