अजमेर : नवनिर्मित भवन में शिफ्ट हुआ संस्कृत महाविद्यालय

अजमेर। संस्कृत शिक्षा विभाग के निर्देशानुसार संस्कृत महाविद्यालय को नवीन भवन में शिफ्ट कर दिया गया। काॅलेज प्रशासन व विद्यार्थियों ने पूजा अर्चना कर महाविद्यालय में प्रवेश किया। इस दौरान सभी विद्यार्थी में खुशी की लहर दौड गई। पूजा अर्चना में कई ग्रामीण भी हुए शामिल। ग्रामीणों ने विद्यालय प्रशासन को शुभकामनाएं दी।

प्राचार्य विनय चन्द्र झा ने बताया कि 13 जुलाई 2017 को शिलान्यास किया गया था। पिछले वर्ष संस्कृत महाविद्यालय 6.56 की लागत से भवन बनकर तैयार किया गया था। भवन तैयार होकर संस्कृत काॅलेज को मिलने के बाद लगातार दो बार आम चुनाव की आचार संहिता लग जाने के कारण स्थानान्तरित नहीं किया जा पा रहा था।

इसमें स्थानान्तरित होने के आदेश दिनांक 19 सितम्बर को मिले जिसकी पालना में 21 अगस्त को महाविद्यालय प्रशासन ने विधि विधान के साथ पूजा अर्चना कर स्थानान्तरित कर लिया गया है एवं जल्द ही इसका उद्घाटन भी किया जाएगा। दिनांक 22 सितम्बर से छात्रसंघ चुनाव प्रकिया शुरू कर दी जाएगी।

संस्कृत महाविद्यालय को स्थानान्तरित करते समय महाविद्यालय के सभी विद्यार्थियों ने पूर्ण रूप से भरपूर सहयोग किया। भविष्य में संस्कृत महाविद्यालय का पता राजकीय आचार्य संस्कृृत महाविद्यालय, लोहागल रोड़, अजमेर रहेगा।

इस अवसर पर महाविद्यालय प्रशासन के डाॅ. सीपी जोशी, डाॅ. रणजीत कुमार झा, राजेन्द्र सिंह लखावत, अलका देश, महेश सिंघल, कन्हैया लाल शर्मा, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष जितेन्द्र सांखला, पूर्व संयुक्त सचिव लोकेश शर्मा, कुलदीप शर्मा, विष्णु शर्मा, धर्मेन्द्र शर्मा, हिमांशु दाधीच, धर्मेन्द्र शर्मा, खुशबू कहलात, हिमांशु सांखला, शाश्वती, पल्लवी, हीरालाल गुर्जर, रामप्रसाद, लखन, राहुल, मनीषा, भोजराज, सूर्यप्रकाश, रितेश इत्यादि सहित अनेक विद्यार्थी मौजूद रहे।