केन्द्र सरकार ने 45 यू ट्यूब वीडियो पर प्रतिबंध लगाया

Verified Apps to watch T20 World Cup 2022 Live Stream

नई दिल्ली। सरकार ने घृणा फैलाने तथा सांप्रदायिक सदभाव बिगाड़ने वाले 45 यू ट्यूब वीडियो पर प्रतिबंध लगाया है।

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने सूचना प्रौद्योगिकी नियम 2021 के तहत अधिकारों का इस्तेमाल करते हुए सोशल मीडिया प्लेटफार्म यू ट्यूब से 10 यू ट्यूब चैनलों के 45 वीडियों पर प्रतिबंध लगाने का निर्देश दिया है। यह निर्देश गत 23 सितम्बर से प्रभावी है। इन वीडियो को सवा करोड़ से अधिक लोगों ने देखा है।

मंत्रालय ने कहा है कि इन वीडियो में धार्मिक समुदायों के बीच घृणा फैलाने के उद्देश्य से फर्जी खबरें और ऐसी क्लिपिंग डाली गई हैं जिनमें फेरबदल किया गया है। इनमें कई फर्जी दावे किए गए हैं जैसे सरकार कुछ समुदायों के धार्मिक अधिकारों को वापस ले रही है और देश में गृह युद्ध का ऐलान हो गया है। सरकार का कहना है कि इस तरह के वीडियो से सांप्रदायिक सदभावना बिगड़ने और कानून व्यवस्था की स्थिति गड़बड़ाने की आशंका है।

कुछ वीडियो में अग्निपथ योजना, सशस्त्र सेनाओं, राष्ट्रीय सुरक्षा तंत्र और कश्मीर के बारे में गलत जानकारी फैलाई जा रही है। इनमें दी गई विषय वस्तु झूठी और सुरक्षा तथा मित्र देशों के साथ संबंधों के मद्देनजर काफी संवेदशील है।