कोरोना की दवाओं पर जीएसटी कम करने की सिफारिश को मंजूरी

मुंबई। महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजीत पवार द्वारा कोरोना वायरस (कोविड-19) की दवाओं और उपकरणों पर जीएसटी में छूट देने की सिफारिश पर शनिवार को जीएसटी की 44वीं परिषद की दिल्ली में हुयी बैठक में मंजूरी दे दी गई।

शनिवार को जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार आक्सीजन और उससे जुड़े उपकरणों पर 12 प्रतिशत की बजाय पांच प्रतिशत जीएसटी लगेगी। कोविड से संबंधित अधिकांश सामग्रियों पर कर को पांच प्रतिशत तक कम करने से कोरोना के इलाज को सस्ता बनाने में मदद मिलेगी और इसे पवार के प्रयासों की एक सफलता माना जा रहा है। पवार ने केंद्रीय वित्त मंत्री और अन्य लोगों को सकारात्मक प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद दिया।

पवार ने 28 मई को कोरोना दवाओं, टीकों और चिकित्सा उपकरणों की लागत में कमी या छूट की मांग की थी। विज्ञप्ति में आगे कहा गया है कि पवार की मांग को ध्यान में रखते हुए केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने अगले दिन मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड संगमा और पवार सहित आठ राज्यों के मंत्रियों का एक समूह बनाया था।

इस समूह ने केन्द्र सरकार को कोरोना वायरस से संबंधित दवाओं और उपकरणों पर जीएसटी कम करने की सिफारिश की थी। जीएसटी परिषद की बैठक में सिफारिश को मंजूर कर लिया गया।