गुजरात में गांधीनगर मनपा चुनाव में भाजपा की भारी जीत

गांधीनगर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात में भाजपा ने गांधीनगर महानगरपालिका में हुए चुनाव में शानदार प्रदर्शन करते हुए भारी जीत हासिल की है। हालांकि पार्टी ने इसके साथ ही हुए तीन नगरपालिकाओं के चुनाव में से दो में ही में जीत सकी। कांग्रेस ने देवभूमि द्वारका ज़िले की भानवड़ नपा का चुनाव जीत लिया। .

राज्य चुनाव आयोग की ओर से जारी नतीजों के अनुसार भाजपा ने गांधीनगर मनपा के तीन अक्टूबर के चुनाव की आज हुई मतगणना के दौरान कुल 11 वार्ड की 44 में से 41 सीटों पर जीत हासिल की है। भाजपा की तरह ही सभी 44 सीटों पर चुनाव लड़ने वाली मुख्य विपक्षी कांग्रेस को मात्र दो सीटें और 40 सीटों पर प्रत्याशी खड़े करने वाली आम आदमी पार्टी यानी आप को मात्र एक सीट पर जीत मिली है।

14 सीटों पर उम्मीदवार उतारने वाली बहुजन समाज पार्टी और दो पर प्रत्याशी खड़े करने वाली राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का खाता नहीं खुल सका है। कुल पौने तीन लाख वोटरों में से चुनाव के दौरान 56.24 प्रतिशत ने मतदान किया था। गांधीनगर मनपा में यह भाजपा की पहली चुनावी जीत है। यहां परम्परागत रूप से कांग्रेस का दबदबा रहा है।

उल्लेखनीय है कि आप पार्टी ने इसी साल हुए सूरत मनपा के चुनाव में 27 सीटें जीत कर भाजपा के खेमे में खलबली मचा दी थी हालांकि वहां भाजपा ही सत्ता में आई थी।
भाजपा ने देवभूमि द्वारका ज़िले की ओखा और बनासकांठा ज़िले की थरा नगरपालिकाओं में भी जीत हासिल की है। इनमे भी तीन अक्टूबर को ही चुनाव हुआ था।

भाजपा ने ओखा की कुल 36 सीटों में से 34 (दो निर्विरोध सहित) पर जीत हासिल की जबकि दो पर कांग्रेस के उम्मीदवार जीते। थरा की कुल 24 में से 20 (चार निर्विरोध सहित) भाजपा ने जीती जबकि चार कांग्रेस ने। भानवड़ की कुल 24 सीटों में से कांग्रेस ने 16 जबकि भाजपा ने आठ जीतीं। नपा के चुनाव में किसी भी अन्य दल का खाता नहीं खुला।

अब राज्य की सभी आठ महानगरपालिकाओं पर भाजपा का क़ब्ज़ा हो गया है जो पिछले ढाई दशक से भी अधिक समय से गुजरात की सत्ता पर क़ाबिज़ है। भाजपा ने अहमदाबाद मनपा की दो सीटों पर हुए उपचुनाव में भी आज जीत हासिल की जबकि कांग्रेस ने जूनागढ़ मनपा की एक सीट पर हुए उपचुनाव में आज जीत दर्ज की।

विभिन्न नगरपालिकाओं की कुल 44 सीटों पर हुए उपचुनावों में 37 पर भाजपा तीन पर कांग्रेस और चार पर निर्दलियों ने जीत हासिल की है। भाजपा की इस जीत को अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले मनोबल बढ़ाने वाली एक बड़ी सांकेतिक जीत माना जा रहा है।

मतगणना में बढ़त के साथ ही यहां के निकट कोबा स्थित पार्टी के प्रदेश कार्यालय श्रीकमलम में ज़बरदस्त जश्न शुरू हो गया। ढोल नगाड़े के साथ ही पटाखों की आवाज़ के बीच पार्टी कार्यकर्ता झूम झूम कर एक दूसरे को बधाई दे रहे थे। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और लोकसभा सांसद सीआर पाटिल ने इस जीत को प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा में लोगों के भरोसे का परिणाम बताया।