गुजरात बोर्ड के 10वीं के परिणाम घोषित, छात्राओं ने फिर मारी बाजी

गांधीनगर। गुजरात माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से इस वर्ष मार्च में आयोजित मैट्रिक (10 वीं) की परीक्षा के परिणाम आज घोषित किए गए जिसमें 66.97 प्रतिशत परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए हैं जो पिछले साल के 67.50 प्रतिशत से कुछ कम है। छात्राओं ने 72.64 प्रतिशत के साथ छात्रों (62.83 प्रतिशत) को एक बार फिर पीछे छोड़ दिया है।

सूरत 79.63 प्रतिशत के साथ सबसे बेहतर परिणाम वाला जिला जबकि छोटा उदेपुर (46.38 ) सबसे फिसड्डी जिला रहा है। केंद्र के लिहाज से गिर सोमनाथ जिले का सुपासी ( 95.96) सबसे बेहतर और इसी जिले का तड (17.63) सबसे नीचे रहा है।

अंग्रेजी माध्यम का परिणाम 88.11 प्रतिशत गुजराती का 64.58 प्रतिशत ओर हिन्दी माध्यम का 72.66 प्रतिशत रहा।

बोर्ड के चेयरमैन एजे शाह ने बताया कि परीक्षा देने वाले 822823 नियमित परीक्षार्थियों में से 551023 उत्तीर्ण हुए हैं। परीक्षा के परिणाम बोर्ड की वेबसाइट पर भी है।

जिलावार परिणाम प्रतिशत इस प्रकार है- अहमदाबाद शहर 72.45, अहमदाबाद ग्राम्य 70.24, अमरेली 61.65, आणंद 59.81, अरावल्ली 66.97, बनासकांठा 68.59, भरूच 66.24, भावनगर 66.19, बोटाद 63.84, छोटा उदेपुर 46.38, दाहोद 49.18, डांग 68.72, देवभूमि द्वारका 70.32, गांधीनगर 71.98, गिर सोमनाथ 70.28, जामनगर 70.61, जूनागढ़ 70.81, खेडा 57.37, कच्छ 65.46, महिसागर 53.06, महेसाणा 67.92, मोरबी 74.09, नर्मदा 66.56, नवसारी 67.40, पंचमहाल 51.81, पाटण 59.53, पोरबंदर 62.61, राजकोट 73.92, साबरकांठा 63.04, सूरत 79.63, सुरेन्द्रनगर 69.26, तापी 62.79, वडोदरा 67.03, वलसाड 62.98, दीव 58.48, दमन 77.41, दादरा एवं नगर हवेली 52.69 प्रतिशत।