ग्वालियर में किशोरी से गैंगरेप के बाद हत्या, शव नदी में फेंका, तलाश जारी

ग्वालियर। मध्यप्रदेश के ग्वालियर जिले में एक चौदह वर्षीय किशोरी की सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या किए जाने और शव को चंबल नदी में फेंके जाने का मामला प्रकाश में आने के बाद पुलिस ने इस मामले से जुड़े तीन आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस शव की तलाश में जुटी हुयी है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार जिले के आंतरी से किशोरी को अगवा कर उसके सामूहिक दुष्कर्म करने और बाद में उसकी हत्या कर शव को चंबल नदी में फेंकने के मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

वहीं, पुलिस लगातार नदी में शव की तलाश कर रही है, लेकिन शव का पता नहीं चल सका है। आज फिर से शव को तलाशा गया है, लेकिन देर शाम तक शव का पता नहीं चल सका है।

जिले के आंतरी कछौआ निवासी 14 वर्षीय बालिका 27 दिसंबर 2021 को लापता हो गई थी। परिजन को जब वह कहीं नहीं मिली, तो वे आंतरी थाने पहुंचे, जिस पर पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर किशोरी की तलाश शुरू की। पुलिस काे पता लगा कि नाबालिग की गांव के ही एक युवक अजीत से दोस्ती थी।

वहीं, पुलिस को पता लगा कि छात्रा एक मोबाइल फोन भी चलाती थी। मोबाइल को जांच में लिया तो अजीत से चैटिंग के कुछ मैसेज मिले। इसके बाद पुलिस ने रविवार काे अजीत काे हिरासत में लिया, जिसके बाद वारदात का खुलासा हुआ। अजीत ने दो दोस्तों के साथ इस घटनाक्रम को अंजाम दिया था।

पुलिस ने इसके बाद अजीत के दोनों साथी आकाश और गोलू को भी गिरफ्तार कर लिया है। मामले का खुलासा होने के बाद से ग्वालियर पुलिस गोताखोरों की मदद से चंबल नदी में नाबालिग का शव तलाश रही है, लेकिन अभी तक सफलता नहीं मिली है।