हनुमानगढ़ : विवाहिता को हरियाणा में बंधक बनाकर ढाई महीने तक गैंगरेप

हनुमानगढ़। राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले में खुइयां थाना क्षेत्र में विवाहिता ने तीन व्यक्तियों पर हरियाणा में ले जाकर बंधक बनाकर देहशोषण करने का आरोप लगाया है।

पुलिस ने बताया कि थाना क्षेत्र के एक गांव की निवासी 22 वर्षीय यह युवती विगत एक अगस्त को गायब हो गई थी। उसके पति ने कुछ दिन बाद उसके लापता होने की थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई। पुलिस इस महिला की तलाश कर रही थी कि वह 15 अक्टूबर को वापस खुद ही अपने गांव आ गई।

पीडिता ने कल शाम थाने में आकर रिपोर्ट देते हुए उसने विजयसिंह, उसके भाई बंटी निवासी और अरडकी थाना खुईयां और विक्रम धानक निवासी भामासी थाना राजगढ़, जिला चूरू पर सामूहिक देह शोषण करने का आरोप लगाया। इस रिपोर्ट पर इन तीनों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया।

पीड़िता ने बताया कि वह 30 जुलाई को ससुराल गांव से पीहर जाना चाहती थी। इसी दौरान विजय ने फोन कर बताया कि वह भी उसके साथ चलेगा। विजय ने उसे अगले दिन साथ ले जाने के लिए कहा।

अगले दिन 1 अगस्त को विजय ने उसके पति को जान से मार देने की धमकी दी। वह मोटरसाइकिल पर बंटी के साथ आया और उसे हरियाणा में खानक नामक गांव में ले गया। वहां एक घर में बंधक बना लिया। विक्रम भी बाद में वह आ गया।

पुलिस के अनुसार पीड़िता का आरोप है कि पिछले अढाई महीने से यह तीनों उसे खानक में बंधक बनाए रखकर उसका देहशोषण करते रहे। वह किसी तरह वहां से निकलकर 15 अक्टूबर को वापस अपने गांव आ गई। पुलिस ने बताया कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है। आज पीड़िता का मेडिकल चेकअप करवाया गया।