हर्षवर्धन: पर्यावरण तकनीकी नहीं, नैतिक मुद्दा

Harshvardhana Environmental not Technical ethical issues
Harshvardhana Environmental not Technical ethical issues

नयी दिल्ली. पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री हर्षवर्धन ने लोगों से पर्यावरण की रक्षा के लिए सामूहिक प्रयास करने का आग्रह करते हुए आज कहा कि पर्यावरण संबंधी मसले तकनीकी नहीं, नैतिक हैं।

आधिकारिक बयान के अनुसार डॉ हर्षवर्धन ने नोएडा स्थित ओखला पक्षी विहार के उन्नयन और पुनर्विकास कार्य की आधारशिला रखने के बाद यह बात कही। उन्होंने कहा कि काम पूरा होने पर यह पक्षी विहार पूरे देश का आकर्षण का केन्द्र होगा। उन्होंने लोगों से पर्यावरण की रक्षा के लिए मिलकर काम करने की अपील करते हुए कहा कि पर्यावरण से जुड़े मुद्दे तकनीकी नहीं, नैतिक होते हैं।

साढ़े तीन किमी में फैला यह पक्षी विहार देशी और प्रवासी दोनों प्रकार के जलीय पक्षियों के लिए स्वर्ग की तरह है। पक्षी विज्ञानियों के रिकार्ड्स के अनुसार यह झील प्रवासी पक्षियों की 319 प्रजातियों को आकर्षित करती हैं जिनमें से लगभग 50 प्रतिशत तिब्बत, यूरोप और साइबेरिया जैसे ठंडे क्षेत्रों से इस हिस्से की गर्म जलवायु के लिए आते हैं। ये यहाँ पर नवम्बर में आते हैं और मार्च में इस स्थान को छोड़ स्वदेश लौट जाते हैं।