यौन शोषण की शिकार नेपाली मूल की नाबालिग ने दिया बच्चे को जन्म

जींद। हरियाणा के जींद जिले में हांसी के एक पोल्ट्री फार्म में यौन शोषण का शिकार हुई नेपाली मूल की किशोरी द्वारा बच्चे को जन्म दिए जाने के बाद महिला थाना पुलिस में दो लोगों के खिलाफ यौन शोषण करने और पाक्सों एक्ट समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस में दर्ज मामले के अनुसार किशोरी के पिता ने अपनी शिकायत में कहा है कि वह जिले के एक गांव में पोल्ट्री फार्म में कार्य करता था और परिवार समेत वहीं पर रहता था। इसी बीच वहां कार्यरत गांव के ही एक युवक अनिल ने उसकी नाबालिग 15 वर्षीय बेटी के साथ सम्बंध बना लिए जिसके चलते वह गर्भवती हो गई। जब उसे घटना के बारे में पता चला तो उसने विरोध जताया, जिस पर आरोपी अनिल और महाबीर ने उसके साथ मारपीट की और बुरा अंजाम भुगतने की धमकी दी।

जब उसने बेटी से पूछताछ की तो उसने अनिल गत लगभग दो साल से उसका यौन शोषण कर रहा था। गत 25 मई को वह पोल्ट्री फार्म को छोड़कर परिवार समेत जींद आ गया। गत पांच जुलाई को उसकी नाबालिग बेटी ने पीजीआई रोहतक में बच्चे को जन्म दिया।

महिला थाना प्रभारी शीला ने बताया कि पुलिस ने पीड़िता के पिता की शिकायत पर अनिल और महाबीर के खिलाफ यौन शोषण, मारपीट करने, छह पाक्सो एक्ट समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई के लिए इसे हांसी पुलिस को भेजा है जहां यह घटना हुई है।