हिसार में युवक की मौत के मामले में 23 को उम्रकैद

haryana : 23 get Life term for murdering youth in Hisar
haryana : 23 get Life term for murdering youth in Hisar

हिसार। हरियाणा में हिसार के अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश डा. पंकज ने अर्बन एस्टेट में लगभग पौने छह साल पहले हुए दो गुटों की लड़ाई में एक युवक की मौत मामले में सोमवार को 23 को दोषी करार देते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई।

बिसला और गुर्जर पक्ष के लोगों में आपसी रंजिश थी जिसमें गुर्जरों ने हमला किया था और गोलीबारी में बिसला गुट के संदीप की गोली लगने से मौत हो गई थी। सिविल लाइन पुलिस ने इस संबंध में 30 दिसंबर 2012 को समुंद्र बिसला की शिकायत पर केस दर्ज किया था।

कोर्ट में चले अभियोग के अनुसार किसी बात पर कहासुनी होने के बाद सुरेंद्र गुर्जर, दीपक, नृपेंद्र, मोगली, कर्ण, जितेंद्र, शीलू, शिबु, कालिया गुर्जर समेत 30-35 सशस्त्र लोगों ने बिसला के घर पर हमला किया था।

संदीप हमले से बचने के लिए घर की छत पर चला गया था लेकिन सामने से गोलियां चलाई गईं और एक गोली संदीप के सीने में लगी। घायल संदीप को उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसको मृत घोषित कर दिया। सिविल लाइन पुलिस ने इस संबंध में 40 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था।

कोर्ट ने हत्या के इस मामले में सुरेंद्र गुर्जर, राजेंद्र उर्फ दीपक, महेंद्र, शमशेर, नृपेंद्र, कपिल, शीलू, जितेंद्र, लवकुश, मुकेश, राम अवतार, नीतेश, बलजीत, संदीप, साहिल, कर्ण, चाप सिंह, मोनू, जसवंत, बंटी, शिबु, राकेश और चैतल को समेत कुल 23 दोषियों को सजा सुनाई।