खट्टर ने खोली तिजोरी, कर्मचारियों के लिए खुले दिल से भत्तों का ऐलान

Haryana CM Manohar Lal Khattar announces bonanza for state govt employees

पंचकूला। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने राज्य के सरकारी कर्मचारियों को अनेक तोहफे देते हुए सातवें वेतन आयोग की तर्ज पर नौ भत्तों की दर बढ़ाने, निशक्त महिला सरकारी कर्मचारियों को चाइल्ड केयर के लिए नया विशेष भत्ता देने और स्वास्थ्य एवं पुलिस विभागों के लिए भी अनेक भत्ते बढ़ाने की घोषणा की। ये बढ़े हुए भत्ते एक मई, 2018 से प्रभावी होंगे।

खट्टर ने सिविल सेवा दिवस के अवसर पर आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में ये घोषणाएं कीं। नया भत्ता शुरू करने के तहत निशक्त महिला सरकारी कर्मचारी को चाइल्ड केयर के लिए 1500 रुपए प्रति बच्चा दिए जाएंगे। राज्य में पहली बार ऐसा भत्ता शुरू किया गया है। बढ़े हुए भत्तों के कारण सरकारी खजाने पर 840 करोड़ रुपए का सालाना वित्तीय भार पड़ेगा।

उन्होंने केंद्र सरकार की तर्ज पर राज्य के सरकारी कर्मचारियों को आवास किराया भत्ता देने के लिए एक कमेटी गठित करने की भी घोषणा की। यह कमेटी वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु की अध्यक्षता में होगी तथा वह भत्ते की दर और इसे लागू करने की तिथि की सिफारिश करेगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार पहले ही अपने कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग के लाभ एक जनवरी 2016 से दे चुकी है।

इन नौ भत्तों में बढोतरी

सातवें वेतनायोग की तर्ज पर बढ़ाए गए नौ भत्तों में निर्धारित चिकित्सा भत्ता 500 रुपए से बढ़ाकर 1000 रुपए प्रतिमाह, बाल शिक्षा भत्ता 750 रुपए से बढ़ाकर 1125 रुपए प्रतिमाह, ग्रुप-डी कर्मचारियों के लिए वर्दी एवं धुलाई भत्ता 240 रुपए से बढ़ाकर 440 रुपए प्रतिमाह, डॉक्टरों के लिए एनपीए की दर संशोधित मूल वेतन का 20 प्रतिशत, साइकिल भत्ता 100 रुपए से बढ़ाकर 200 रुपए प्रतिमाह, निशक्तजन के लिए वाहन भत्ते की दर मूल वेतन का आठ प्रतिशत और अधिकतम सीमा 4000 रुपए, सफाई कर्मचारियों के लिए विशेष भत्ता 325 रुपए से बढ़ाकर 625 रुपए प्रतिमाह, यात्रा भत्ता एवं पर्वतीय क्षेत्र मुआवजा भत्ता मूल वेतन का 2.5 प्रतिशत किया गया है जिसकी न्यूनतम सीमा 200 रुपए एवं अधिकतम सीमा 400 रुपए से बढ़ाकर क्रमश: 350 रुपए और 700 रुपए कर दी गई है। समारोह में वरिष्ठ आईएएस, आईएफएस और आईपीएस अधिकारी उपस्थित थे।