हरियाणा में गैस्ट टीचरों को वेतन वृद्धि, महंगाई भत्ते का बड़ा तोहफा

Haryana government decides to increase salary, allowances of guest teachers

चंडीगढ़। हरियाणा सरकार ने राज्य के सरकारी स्कूलों में कार्यरत अतिथि शिक्षकों को शुक्रवार को बड़ा तोहफा प्रदान करते हुये इनका वेतन 20 से 25 प्रतिशत बढ़ाने तथा वर्ष में दो बार महंगाई भत्ता बढ़ाने का ऐलान किया।

राज्य के शिक्षा मंत्री रामविलास शर्मा ने बताया कि अब जेबीटी/ड्राईंग टीचर, मास्टर और स्कूल लैक्चरर के तौर पर लगे अतिथि अध्यापकों को एक जुलाई 2018 से क्रमश: 26,000 रूपए, 30,000 रूपए और 36,000 रूपए प्रतिमाह वेतन मिलेगा।

यही नहीं इनका वेतन हर वर्ष एक जनवरी और एक जुलाई से हरियाणा प्रदेश के ‘कॉस्ट ऑफ लिविंग इंडेक्स’ में होने वाली बढ़ौतरी के बराबर दर से बढ़ता रहेगा।

उन्होंने कहा कि अतिथि शिक्षकों के चार संगठनों की मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के साथ हुई बैठक के बाद सरकार ने यह फैसला लिया है। उन्होंने बताया कि राज्य की मौजूदा सरकार अतिथि अध्यापकों के हित में कदम उठाती आई है।

पिछली सरकार ने वर्ष 2006 में अतिथि अध्यापकों की नियुक्ति की थी तथा इन्हें प्रति पीरियड के हिसाब से पैसे दिए जाते थे। इसके बाद उनके वेतन में थोड़ी-बहुत बढ़ौतरी की गई।

वर्तमान सरकार ने सातवें वेतन आयोग की रिपोर्ट के बाद 14.52 प्रतिशत बढ़ौतरी सुनिश्चित करते हुए इन जेबीटी/ड्राईंग टीचर, मास्टर व स्कूल लैक्चररों का वेतन दिनांक एक जनवरी 2017 से क्रमश: 21,715 रूपए, 24,001 रूपए तथा 29,715 रूपए प्रतिमाह कर दिया था। अब इनके वेतन में और भी अधिक वृद्धि की गई है।