चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने केकडी में की जनसुनवाई

अजमेर/केकड़ी। चिकित्सा एवं जनसंपर्क मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने शनिवार को केकड़ी प्रवास के दौरान जनसुनवाई कर क्षेत्रवासियों की समस्याओं के निस्तारण के लिए अधिकारियों को निर्देश प्रदान किए।

चिकित्सा एवं जनसंपर्क मंत्री डॉ. रघु शर्मा अपने तीन दिवसीय प्रवास के लिए शुक्रवार को केकड़ी पहुंचे थे। उन्होंने शनिवार को अपने केकड़ी स्थित निवास पर जनसुनवाई की। इसमें बड़ी संख्या में केकड़ी विधानसभा क्षेत्र के व्यक्तियों ने अपनी समस्याएं रखी।

इनकी समस्याओं को डॉ. शर्मा ने आत्मीयता के साथ सुना। इनके समाधान के लिए संबंधित विभाग के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश प्रदान किए। डॉ. शर्मा ने अधिकारियों को संवेदनशीलता के साथ आम जन की परिवेदना का निस्तारण करने के लिए कहा।

केकड़ी विधानसभा क्षेत्र के सामाजिक संगठनों एवं कार्यकर्ताओं ने डॉ. शर्मा का अभिनंदन भी किया। उन्होंने डॉ. शर्मा का माल्यार्पण किया। विभिन्न संगठनों द्वारा केकड़ी क्षेत्र के विकास के लिए डॉ. शर्मा के द्वारा किए जा रहे प्रयासों के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया।

इस अवसर पर युवा नेता सागर शर्मा, ब्लॉक अध्यक्ष शैलेंद्र सिंह शक्तावत, नगर अध्यक्ष निर्मल चौधरी, राजस्थान फार्मेसी काउंसिल के सदस्य राजेंद्र भट्ट, चिकित्सा विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. इंद्रजीत सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. केके सोनी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं स्थानीय जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

रघु शर्मा ने ली सरवाड़ के अधिकारियों की बैठक

सरवाड़ उपखण्ड क्षेत्र के अधिकारियों की चिकित्सा एवं जनसंपर्क मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बैठक ली। बैठक में प्रशासन गांवों के संग तथा प्रशासन शहरों के संग अभियान की पूर्व तैयारी करने के निर्देश प्रदान किए।

शर्मा ने शनिवार को सरवाड़ पंचायत समिति सभागार में अधिकारियों के साथ सरकार द्वारा आमजन को राहत पहुंचाने के लिए आगामी 2 अक्टूबर से आरम्भ होने वाले प्रशासन शहरों के संग तथा प्रशासन गांवों के संग अभियान के बारे में विभागीय अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया। इस अभियान के माध्यम से अधिकतम व्यक्तियों को लाभान्वित करने के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश प्रदान किए।

डॉ. शर्मा ने कहा कि प्रशासन गांवों के संग अभियान में राजस्व अभिलेखों एवं खातों में त्रुटियों का शुद्धीकरण कलस्टर बनाकर किया जाए। सरकार द्वारा निर्धारित कार्यों का ग्राम पंचायतवार चिन्हीकरण किया जाए। आबादी विस्तार, श्मशान एवं कब्रिस्तान विकास, रास्ते एवं राजकीय कार्योंलयों सहित समस्त कार्यों का चिन्हीकरण कर पूर्व तैयारी कर ली जाए। इसके लिए अग्रिम टीमों का गठन कर प्रस्ताव तैयार किए जाए। ये दल पंचायतवार गठित होंगे। इनमें ग्रामीण विकास विभाग तथा राजस्व विभाग के कार्मिक आपसी समन्वय के साथ कार्य करेंगे।

उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों के परिसम्पत्ति रजिस्टर को अपडेट रखा जाए। ग्राम पंचायतों की सम्पूर्ण सम्पत्तियों का इनमें इन्द्राज हो। ग्रामीणों के पट्टे तैयार करने के लिए आवेदन एडवांस में तैयार किए जाए। इस संबंध में ग्रामीण क्षेत्रों में जागरूकता की आवश्यकता है। प्रत्येक ग्राम पंचायत द्वारा अभियान में कम से कम 100 पट्टे जारी करने का लक्ष्य निर्धारित कर कार्य योजना बनाई जाए। प्रशासन गांवों के संग अभियान के संबंध में प्रशिक्षण ग्राम पंचायतवार आयोजित किए जाए। इस दौरान सामने आने वाली समस्याओं का निराकरण समय पर ही कर दिया जाए।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के स्वीकृत कार्यों को पूर्ण किया जाए। संबंधित लाभार्थी से सम्पर्क कर आवास निर्माण के कार्यों को पूर्ण करने के लिए प्रेरित किया जाए। तकनीकी कारणों से आवास पूर्ण करने पर भी बकाया भुगतान नहीं होने के प्रकरण सामने आए है। लाभार्थियों के बकाया भुगतान जारी करने के लिए सक्षम स्तर पर सम्पर्क कर मैपिंग सुनिश्चित की जाए।

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से बचाव के लिए चिकित्सा सुविधाओं का विस्तार एवं सुदृढीकरण किया गया है। इसके लिए क्षेत्र में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों को आदर्श सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बनाने के लिए कार्य आरम्भ किया गया है। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर वर्तमान में उपलब्ध संसाधनों तथा आदर्श सामुदायिक चिकित्सालय के लिए आवश्यक संसाधनों के मध्य पाए गए अन्तर को कम करने के लिए प्रयास किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि चकवा, मियां एवं चकवी गांवों में पेयजल की समस्या का समाधान किया जाए। केकड़ी विधानसभा क्षेत्र के समस्त हैडपंपों को कार्यशील रखने के लिए नियमित मरम्मत की जाए। समग्र शिक्षा अभियान के माध्यम से करवाए जाने वाले कार्यों को गति प्रदान की जाए। क्षेत्र में बिजली की कटौती कम से कम करने के लिए बिजली विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया गया।

उन्होंने कहा कि सार्वजनिक निर्माण विभाग के द्वारा सड़कों के मरम्मत का कार्य, झाडिया हटाने का कार्य मानसून के तुरन्त पश्चात आरम्भ किया जाए। विभाग की परिसम्पत्तियों को विभाग के नाम दर्ज कराने के लिए अभियान के दौरान प्रयास किए जाए। बैठक में जालिया से गुन्दाली सड़क, बिडला से स्यार, स्यार से जूनिया, पीपरोली से गुदलिया, पीपरोली से टांटोटी तथा कचोलिया से कसाना सड़कों के प्रस्ताव तैयार करने के लिए निर्देश प्रदान किए गए। क्षेत्र में विभिन्न सड़कों के आरपार सायफन के लिए 300 मिलीमीटर की डक भी डाली जाएगी। सार्वजनिक निर्माण विभाग के श्री केदार शर्मा ने क्षेत्र में प्रगतिरत विकास कार्यों के बारे में अवगत कराया।

इस अवसर पर स्थानीय प्रधान घीसी देवी, निर्वतमान अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह राठौड, गांधी जीवन दर्शन समिति के सहसंयोजक शक्ति प्रताप सिंह, ब्लॉक अध्यक्ष शैलेंद्र सिंह शक्तावत, राजस्थान फार्मेसी काउंसिल के सदस्य राजेंद्र भट्ट, केकड़ी के उपखण्ड अधिकारी विकास कुमार पंचौली, स्थानीय तहसीलदार रामकल्याण मीणा सहित विभागीय अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।