VIDEO : हेल्थ, वेल्थ और हैप्पीनेस में छिपा है खुशी का खजाना

अजमेर। वर्तमान में भागमभाग भरी जिंदगी में बच्चे, बूढे और जवान अपनी सेहत, शांति और खुशी के पलों को बिसरा चुके हैं। दुःख, तनाव, चिड़चिड़ापन इतना बढ गया है कि व्यक्ति चाह कर भी सहज नहीं रह पा रहा। इन्हीं परेशानियों से निजात दिलाने के लिए प्रजापति ब्रह्मकुमारी विश्वविद्यालय की ओर से आयोजित हैल्थ वैल्थ हैप्पीनेस आध्यात्मिक मेले का आयोजन किया गया। 21 फरवरी से 1 मार्च तक सैकडों बच्चों, बूढों और जवानों ने हैप्पीनेस लाइफ के गुर सीखे और परमात्मा के साथ अपने संबंधों की जानकारी ली।

आजाद पार्क में आयोजित 10 दिवसीय हेल्थ वेल्थ हैप्पीनेस आध्यात्मिक मेले के समापन अवसर पर बीके कीर्ति बहन ने ‘सबगुरु न्यूज’ से बातचीत में कहा कि पहला सुख निरोगी काया यानी हैल्थ ही वैल्थ है यानी सेहत ही वास्तविक धन है और इससे हैप्पीनेस का सीधा सम्बन्ध है। शरीर स्वास्थ्य और रोग मुक्त हो, इसके साथ ही मन को स्वस्थ्य रखना भी जरूरी है। मन को स्वस्थय रखने के लिए सकारात्मक सोच रखना जरूरी है।

बोलते समय शब्दों के चयन पर निर्भर करता है कि उसका परिणाम सकारात्मक आएगा या नकारात्मक। सदविचारों से सकारात्मक शब्द बनते हैं और सकारात्मक शब्दों से दुःख, तनाव, चिड़चिड़ापन आदि खत्म होते हैं। राजयोग का ही एक पार्ट है मेडिटेशन। इसके जरिए हम अपना तनाव दूर कर अपनी आत्मा का परमात्मा से मिलन करा सकते हैं। हेल्थ, वेल्थ और हैप्पीनेस से अजमेर शहर के वाशिंदों को रूबरू कराने के लिए ही यहां यह मेला लगाया गया।

यह भी पढें

हैल्थ, वैल्थ, हैप्पीनेस, आध्यात्मिक मेले ने सिखाई जीवन जीने की कला
VIDEO राजयोग : यहीं तो है खुशनुमा जिंदगी जीने की कला
Video : वैल्यू गेम्स के जरिए जानिए अपने भीतर छिपे गुण

अजमेर में ही करें बाबा बर्फानी के दर्शन, आजाद पार्क चलें

Video : आध्यात्मिक मेले में कुंभकरण का लाइव शो बना आकर्षण का केन्द्र

अजमेर में ब्रह्मकुमारीज के हैल्थ-वैल्थ एंड हैप्पीनेस आध्यात्मिक मेले का आगाज

Video : सृष्टि के रहस्य का अदभुत रोमांच, धरती पर उतर आया स्वर्ग