पुरुषों में संभोग के बाद हार्ट अटैक का खतरा

Men more at risk of rare heart attack after sex
Men more at risk of rare heart attack after sex

हार्ट अटैक : भारतीय मूल के शोधकर्ता की अगुवाई वाले दल को एक अध्ययन में पता चला है कि कार्डियोवस्कुलर रोग के शिकार रहे पुरुषों को सेक्स के दौरान या उसके बाद अचानक कार्डिएक अरेस्ट (हार्ट अटैक) होने का जोखिम हो सकता है।
अचानक कार्डिएक अरेस्ट (एससीए) में दिल एकाएक धड़कना बंद कर देता है और ऐसा बिना किसी चेतावनी के होता है।

इस शोध के निष्कर्षो से पता चला कि एससीए की घटनाएं काफी दुर्लभ है, लेकिन इसमें पीड़ित के जीवित रहने की दर काफी कम है।

शोधकर्ताओं ने कहा कि ऐसा इसलिए होता है क्योंकि पीड़ित व्यक्ति का सहयोगी तुरंत उसे सीपीआर (फुफुसीय पुर्नजीवन) दे पाने में नाकाम रहता है। सीपीआर देकर ज्यादा से ज्यादा जानें बचाई जा सकती है।

हार्ट अटैक से बचना है तो यह जरूर करिए नमस्कार दोस्तों आज के समय में हार्ट अटैक होना एक आम बात हो गई है एक समय ऐसा था जब हार्टअटैक अधिक उम्र वालों को ही होता था लेकिन आज का समय ऐसा है यह हार्टअटैक होना किसी उम्र का संबंध ना लेकर आ जाता है कई बार तो यह भी देखा जाता है कि छोटे बच्चों को भी हार्ट अटैक हो जाता है और आज के समय में अच्छे खासे चलते फिरते व्यक्ति को भी हार्ट अटैक आ जाता है।

क्यों होता है हार्ट अटैक

हार्ट अटैक के पीछे की वजह क्या होती है तो आपको बता दें की हार्ट अटैक का होना आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना होता है। इसके अलावा भी कई ऐसे कारण होते हैं। जिनकी वजह से हार्ट अटैक आता है। लेकिन कोलेस्ट्रोल का आपके शरीर में मात्रा ज्यादा हो जाना आपके लिए हार्ट अटैक की समस्या पैदा कर सकता है। और यह सभी जानते ही हैं कि हार्ट अटैक एक जानलेवा स्थिति होती है।

हार्ट अटैक कैसे होता है

आखिर हार्टअटैक होता है तो ऐसा क्या होता है कि आपका शरीर असहाय हो जाता है और आप की धड़कन काम करना बंद कर देती हैं तो आपको बता दें हार्ट अटैक के समय आपके शरीर में आपका दिल रक्त संचार की प्रतिक्रिया रोक देता है। क्योंकि रक्त में इतना ज्यादा गाड़ा बना जाता है कि वह हृदय से निकल नहीं पाता या यूं कहें संचारित नहीं हो पाता इस वजह से हार्ड अटैक अलेवा भी साबित होता है।

हार्ट अटैक से बचने के लिए क्या करे

हार्ट अटैक से कैसे बचें : हार्ट अटैक हो ना आम तो हो गया है लेकिन इसके लिए आप कुछ सावधानियां बरतें यह अपनी दिनचर्या में कुछ ऐसी चीजों को जोड़ दें जो कि आप को हार्टअटैक से बचा सकती है।

व्यायाम नहीं होने देगा हार्ट अटैक

इसके लिए आपको बता दें आपको नियमित रूप से व्यायाम करना चाहिए और जितना हो सके अपने शरीर का पसीना प्राकृतिक रूप से बाहर निकलने देना चाहिए इससे आपके रक्त का कालापन कम होता है और रक्त संचार अच्छे तरीके से हो पाता है

आपका खान-पान हार्ट अटैक की जड़

हार्ट अटैक का संबंध आपके खान-पान से भी जुड़ा हुआ है यदि आप बाहर का खाना अधिक खाते हैं तो आपके लिए हार्ट अटैक की समस्या बढ़ सकती है क्योंकि बाहर के खाने में अधिक मात्रा में तेल पाया जाता है और यह तेल फिल्टर भी नहीं होता जोकि आपके रक्त में गाड़ आपन बढ़ाता है एवं कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को भी बढ़ाता है। जो कि आपके लिए हार्ट अटैक के माध्यम से जानलेवा साबित हो सकता है। जितना हो सके बाहर के खाने से बचें और यह हो सके कि आप अपने घर में भी तेल की मात्रा को बहुत ही कम कर दें और ऐसे कोई उत्पाद जिनमें कोलेस्ट्रॉल अधिक मात्रा में पाया जाता है उन्हें भी बंद कर दें तो आप हार्ट अटैक की समस्या से दूर है सकते हैं।

धूम्रपान हार्ट अटैक का एक बड़ा कारण

हार्ट अटैक का एक बड़ा कारण धूम्रपान हो सकता है इसमें सिगरेट पीना शराब का सेवन करना तंबाकू खाना व कई अन्य ऐसे धूम्रपान आते हैं जो कि हार्टअटैक की समस्या पैदा कर सकते हैं जितना हो सके धूम्रपान से दूर ही रहिए। हम यह नहीं कहते कि आप एक बार में ही धूम्रपान करना छोड़ दें लेकिन आप इसे कम तो कर ही सकते हैं। और एक बार आप यह ठान लें कि आप को धूम्रपान करना बंद करना है तो आप यह कर सकते हैं। जब तक आप यह नहीं कर पाते तब तक अपने व्यायाम को इतना ज्यादा बढ़ा दें कि आपके शरीर में व्यायाम द्वारा रक्त का संचार अच्छे तरीके से हो पाए और जितना हो सके शुद्ध हवा का सेवन करें जो कि आपको सुबह के समय ही मिल पाएगी।

पानी की कमी हार्ट अटैक की वजह बनी

पानी का नियमित रूप से सेवन हार्ट अटैक का संबंध शरीर में खानपान धूम्रपान या फिर कह सकते हैं कि शरीर की व्यवस्था बिगड़ने से पैदा हो सकती है कहीं बारिश का एक कारण पानी की कमी भी हो जाती है। अधिक पानी पीने से आपके रक्त संचार बहुत अच्छे तरीके से होता है। और पानी ज्यादा पीना तो आपके लिए कई अन्य बीमारियों से बचाव का भी तरीका होता है तू जितना हो सके जल का सेवन अधिक से अधिक करें एक आम इंसान को दिन भर में लगभग 3-4 लीटर पानी पीना ही चाहिए हो सके तो हर घंटे कम से कम 4 गिलास पानी पिए।

कैसे रहे हमेशा स्वस्थ

स्वस्थ रहना आपके हाथ में होता है। आप खान-पान कैसा करते हैं। आप किस समय खाते हैं। किस समय सोते हैं। हर चीज आपके स्वास्थ्य पर प्रभाव डालती है यदि आप स्वस्थ रहेंगे तो हमेशा मस्त भी रहेंगे। यानी स्वस्थ रहने पर आप हर एक चीज कर सकते हैं। तो कोशिश करिए अपने जीवन में अच्छी आदतों को अपना ही है बुरी आदतों से बचे और दूसरों को भी यही सिखाइए। वह कहते हैं ना “जान है तो जहान है” और जो इन बातों को समझ जाए वही महान है।

Read More About Hart Attack :