अजमेर में तेज वर्षा के कारण स्कूलों में रहेगा अवकाश

अजमेर। जिलेभर में शुक्रवार को ​दिनभर रुक रुककर बारिश होती रही, देर शाम तेज बारिश होने से शहर में जगह जगह सडकों व निचली गलियों में पानी भर गया। आनासागर झील में भी पानी की आवक बनी हुई है।

इस बीच तेज बारिश की आशंका को देखते हुए कलेक्टर ने शनिवार को समस्त राजकीय, निजी एवं सीबीएसई विद्यालयों में एक दिन का अवकाश घोषित किया है। इस दिन अध्यापकगण विद्यालय समय सारिणी के अनुसार अपनी उपस्थिति विद्यालय में सुनिश्चित करेंगे।

शाम को हुई तेज बारिश के कारण कई जगह पानी भरने से यातायात बाधित हो गया। वाहन बीच रास्ते में फंस जाने से कोढ में खाज वाली स्थित बन आई। आनासागर लिंक रोड पर चौपाटी, पंचशील में डीमार्ट आदि जगहों पर घूमने आए लोग भी पानी भरने से खासे परेशान रहे।

मौसम विभाग के अनुसार इसके साथ ही पूर्वी एवं दक्षिणी राजस्थान में 15 जिलों में भारी वर्षा का अनुमान है। अगले 48 घंटों के दौरान अजमेर, अलवर, भरतपुर, भीलवाडा, बूंदी, चित्तौड़गढ़, दौसा, धौलपुर, जयपुर, करौली, कोटा, राजसमंद, सवाई माधोपुर, सिरोही और टोंक में कुछ स्थानों पर भारी तथा कुछ एक स्थानों पर बहुत भारी वर्षा होने की संभावना हैं। शेष जिलों में भी कुछ स्थानों पर बारिश होने का अनुमान है।

अजमेर के बिजयनगर में 125 मिली मीटर वर्षा दर्ज

अजमेर जिले में एक जून से अब तक 493.96 मिली मीटर औसत वर्षा दर्ज हुई है। गुरूवार प्रातः समाप्त हुए गत् 24 घण्टों में सर्वाधिक वर्षा बिजयनगर में 125 मिली मीटर दर्ज की गई। जबकि अजमेर में 17, श्रीनगर में 20, गेगल में 4, गोविंदगढ़ में 20, बुढ़ा पुष्कर में 30, नसीराबाद में 49, पीसांगन में 31, मांगलियावास में 45, किशनगढ़ में 21, बांदरसिंदरी में 37.5, रूपनगढ़ में 28, अरांई में 31, ब्यावर तहसील में 44, ब्यावर सहायक अभियंता में 48, जवाजा में 31, टाटगढ़ में 130, सरवाड़ में 63, सरवाड़ पुलिस थाना में 63, गोयला में 35, केकड़ी में 68, सांवर में 46, भिनाय में 72, मसूदा में 29 तथा नारायण सागर में 73 मिली मीटर वर्षा दर्ज की गई है।

मौसम विभाग ने राजस्थान के 18 जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी दी

भारी बारिश के चलते राजस्थान के कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात