हीना सिद्धू को 10 मी.एयर पिस्टल में कांस्य पदक, मनु भाकर फिर चूकीं

Heena Sidhu bronze medal in 10m air pistol
Heena Sidhu bronze medal in 10m air pistol

जकार्ता । भारत की स्टार निशानेबाज़ हीना सिद्धू ने अपनी लय कायम रखते हुये 18वें एशियाई खेलों में भी अपने लिये पदक का सिलसिला बरकरार रखा और शुक्रवार को महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल निशानेबाजी स्पर्धा में देश के लिये कांस्य जीता। हालांकि मनु भाकर इस बार भी पदक से चूक गयीं।

महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल में हीना ने 219.2 का स्कोर कर पोडियम पर जगह बनाई और कांस्य पदक जीता। इन खेलों में लगातार चूक रहीं 16 साल की मनु इस बार भी पदक तक नहीं पहुंच सकीं और आठ खिलाड़ियों की फील्ड में पांचवें नंबर पर रहीं। मनु ने 176.2 का स्कोर किया।

28 साल की हीना ने इससे पहले 2010 के ग्वांग्झू एशियाई खेलाें में भी 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा का कांस्य पदक जीता था जबकि इसी वर्ष हुये 2010 दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों में उन्होंने 10 मीटर एयर पिस्टल में स्वर्ण पदक जीता था। अच्छी लय में चल रहीं भारतीय निशानेबाज ने इस वर्ष गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में 25 मीटर पिस्टल का स्वर्ण जीता। वह पिछले 2014 के इंचियोन एशियाई खेलों में भी 25 मीटर पिस्टल का कांस्य जीत चुकी हैं।

निशानेबाजी की बाकी स्पर्धाओं की तरह इस बार भी मनु ने क्वालिफिकेशन में कमाल किया और वह 43 खिलाड़ियों की फील्ड में तीसरे नंबर पर रहीं। उन्होंने 574 के स्कोर के साथ फाइनल में क्वालीफाई किया जबकि हीना 571 के स्कोर के साथ सातवें नंबर पर रहीं और आठ फाइनलिस्टों में जगह बनाई।

फाइनल में हीना ने शुरूआत से ही अच्छी लय दिखाई और पहली सीरीज़ में 9.6, 9.6, 10.0, 10.5, 10.2, के स्कोर किये और पांच शॉट के बाद 49.9 का स्कोर किया। हालांकि दूसरी सीरीज़ के पांचवें शॉट पर वह 8.2 के साथ कुछ फिसल गयीं जिससे दूसरी सीरीज़ में उनका स्कोर 46.8 का रहा।

इसके बाद बाकी छह में से पांच सीरीज़ में उन्होंने अच्छे स्कोर किये। आठवीं सीरीज़ में उन्होंने 10.8 का बढ़िया स्कोर किया लेकिन दूसरे शॉट पर वह 9.6 के साथ पिछड़ गयीं और कांस्य से संतोष करना पड़ा। इस स्पर्धा का स्वर्ण पदक चीन की कियान वांग ने 240.3 का गेम्स रिकार्ड बनाते हुये जीता। कोरिया की मिनजुंग किम ने 237.6 के स्कोर के साथ रजत जीता।

दूसरी ओर मनु ने पहली ही सीरीज़ के पहले शॉट पर 8.8 का खराब स्कोर किया। उन्होंने तीसरे शॉट पर 10.2 और चौथे पर 10.6 के साथ वापसी की कोशिश की लेकिन दूसरी सीरीज़ के आखिरी शॉट पर 8.7 के निराशाजनक स्कोर से वह फिर पिछड़ती चली गयीं और छठी सीरीज़ के बाद होड़ से बाहर हो गयीं।

मनु इससे पहले 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में भी क्वालिफिकेशन टॉप करने के बाद पदक राउंड में छठे नंबर पर रही थीं। इस स्पर्धा का स्वर्ण भारत की राही सरनोबत ने जीता था। पुरूषों की 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल स्पर्धा में 15 साल के युवा निशानेबाज़ अनीश भनवाला क्वालिफिकेशन के पहले चरण में 293 के स्कोर के साथ तीसरे नंबर पर रहे जबकि शिवम शुक्ला ने 289 का स्कोर किया और 11वें पायदान पर रहे। क्वालिफिकेशन के दूसरे चरण के बाद फाइनलिस्टों का चयन होगा।