महिला लीग से पहले घरेलू क्रिकेट सुधारना जरूरी : मिताली राज

High time for womens IPL? Improve quality of domestic cricket first, says Mithali Raj

मुंबई। भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने कहा है कि देश में पुरूषों की तरह महिलाओं के लिए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) जैसे टूर्नामेंट शुरू करने से पहले घरेलू स्तर पर महिलाओं के क्रिकेट को सुधारने की जरूरत है।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड गत माह अप्रेल में आईपीएल के 11वें संस्करण से पहले महिलाओं के लिए भी प्रदर्शनी मैच आयोजित करेगा। भारतीय महिला टीम के गत वर्ष विश्वकप में फाइनल तक पहुंचने और टूर्नामेंट में बेहतरीन प्रदर्शन के बाद महिला क्रिकेट को लेकर बोर्ड भी काफी सजग दिखाई दे रहा है।

मिताली ने हालांकि माना कि देश में महिलाओं की लीग शुरू करने से पहले घरेलू स्तर पर महिलाओं के खेल को मजबूत किए जाने की जरूरत है। कप्तान ने इस बारे में पूछे जाने पर कहा“ आईपीएल जैसे किसी भी टूर्नामेंट के लिए पहले आपके पास खिलाड़ियों का पूल होना चाहिए। मैंने पहले ही कहा है कि महिला ए टीम में भी हमें अच्छे खिलाड़ियों की जरूरत है। जब हमारे पास ऐसे गुणवत्ता वाले खिलाड़ी होंगे तभी आईपीएल जैसा टूर्नामेंट खेला जा सकता है।

35 वर्षीय बल्लेबाज़ ने कहा कि आपको घरेलू खिलाड़ियों को तैयार करना होता है। लेकिन घरेलू और अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों में काफी फर्क होता है और इससे भी महिला क्रिकेट को ज्यादा अागे बढ़ाने में मुश्किलें आती हैं। इसलिए हमें युवा खिलाड़ियों को आगे बढ़ाना होगा।

मिताली ने कहा कि मेरा निजीतौर पर मानना है कि पहले हमें मजबूत घरेलू ढांचा तैयार करना होगा ताकि उसमें से गुणवत्ता वाले खिलाड़ियों को चुना जा सके, उसी के बाद आईपीएल जैसे किसी लीग के बारे में सोचा भी जा सकता है। नहीं तो आपके पास इसके लिये खिलाड़ी ही नहीं होंगे।

इस मौके पर मौजूद अनुभवी तेज गेंदबाज़ झूलन गोस्वामी ने भी मिताली की बात पर सहमति जताई। झूलन ने कहा कि यह सही है कि हमें अपने घरेलू ढांचे को पहले मजबूत करना होगा।

भारतीय टीम आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के साथ त्रिकोणीय ट्वंटी 20 सीरीज़ खेलेगी जिसकी शुरूआत गुरूवार से मुंबई में होगी। मिताली एंड कंपनी इस वर्ष होने वाले ट्वंटी 20 विश्वकप के लिए भी तैयारी में जुटी है ऐसे में उसकी घरेलू मैदान पर इस सीरीज में अच्छे प्रदर्शन पर निगाहें लगी हैं।