कांग्रेस अनेक राज्यों में सत्ता से बाहर, पार्टी के प्रति जनता में गुस्सा : मोदी

शिमला। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि जनता में कांग्रेस के प्रति गुस्सा है और इसी के चलते यह पार्टी कई राज्यों में वर्षों से वापसी नहीं कर पा रही है।

मोदी ने हिमाचल प्रदेश विधानसभा के 12 नवम्बर को होने वाले चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी के लिए अपने प्रचार अभियान के तहत बुधवार को कांगड़ा संसदीय क्षेत्र के चम्बी में एक चुनावी रैली को सम्बोधित करते कहा कि कांग्रेस का आधार परिवारवाद और वंशवाद है और ऐसे में यह पार्टी हिमाचल की जनता की आशाओं और आकांक्षाओं को पूरा नहीं कर सकती।

उन्होंने कहा कि जब भी सरकार बदलती है तो इसका खामियाजा राज्य और युवाओं को भुगतना पड़ता है। वर्तमान में हिमाचल में विकास के लिए दो इंजन हैं, एक केंद्र में और दूसरा राज्य में।

कांग्रेस पर तंज कसते हुए मोदी ने कहा कि उसकी सरकार के कार्यकाल में राज्य में कमजोर वर्गों के लिए केवल 15 घर बनाए गए थे लेकिन भाजपा शासन में कमजोर वर्गों के लिए 10,000 घर स्वीकृत किए गए थे, जिनमें से 8000 बनाए जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि देश के विकास के लिए हर स्तर पर काम किया जा रहा है।

राज्य में केंद्र और राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाएं सफलतापूर्वक चल रही हैं। उन्होंने कहा कि कांगड़ा शक्तिपीठों की धरती है। भारत की आस्था और अध्यात्म का एक तीर्थ है। बैजनाथ से लेकर काठगढ़ तक, इस भूमि में बाबा भोले की असीम कृपा हम सभी पर हमेशा बनी रहती है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज हिमाचल प्रदेश 21वीं सदी में विकास के जिस पड़ाव पर है, वहां उसे स्थिर और मजबूत सरकार की जरूरत है। जब हिमाचल के पास मजबूत सरकार होगी और डबल इंजन की ताकत होगी, तो राज्य चुनौतियों को भी पार कर नई ऊंचाईयों को तेजी से छूएगा। जनता की जनता ने कांग्रेस को पुन: सत्ता में नहीं लौटने देने का मन बना लिया है।

तमिलनाडु का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि वहां के लोगों ने करीब 60 साल पहले कांग्रेस की विदाई कर दी थी जो आज तक इसकी वापसी नहीं हुई। देश में कई ऐसे राज्य हैं जहां कांग्रेस का एक भी विधायक नहीं है। कांग्रेस ने युवाओं के सपनों को कुचला है और पूरा ध्यान भ्रष्टाचार पर लगाया जबकि हम देश के लिए काम कर रहे हैं।

मोदी ने कहा कि भाजपा ने राजनीतिक परिपाटी को बदला है। भाजपा वही वादे करती है जो कर सकती है। इस बार उत्तराखंड के लोगों ने भी पुरानी परम्परा को बदलते हुए भाजपा को जिताया। उत्तर प्रदेश में भी 40 साल बाद ऐसा हुआ है जब कोई पार्टी फिर से जीतकर पूर्ण बहुमत के साथ लगातार दूसरी बार सरकार में आई है। मणिपुर में भी भाजपा की सरकार फिर से आई है।

हम ऐसी राजनीतिक परम्परा बनाना चाहते हैं कि सरकारें ऐसा काम करें कि मतदाता हमें बार-बार मौका दें। इसलिए हम विकास के लिए और देश के लिए हर जगह, हर स्तर पर काम कर रहे हैं। कांग्रेस यानि, अस्थिरता की गारंटी। कांग्रेस यानि, भ्रष्टाचार, घोटाले की गारंटी। कांग्रेस यानि, विकास कार्यों में रोड़े अटकाने की गारंटी।

उपलब्धियों का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री कहा कि केंद्र सरकार ने उज्ज्वला योजना चलाई, हिमाचल की भाजपा सरकार ने गृहिणी योजना चलाकर इसमें और लोगों को जोड़ दिया। केंद्र सरकार ने आयुष्मान योजना चलाई तथा हिमाचल की भाजपा सरकार ने हिमकेयर योजना से और लोगों को इसमें जोड़ दिया। इस तरह से डबल इंजन सरकार काम कर रही है।

कांग्रेस ने केंद्र में रहते हुए पेंशन की उम्र 80 साल करते हुए साथ ही में आमदनी की शर्त रख दी थी। भाजपा सरकार ने पेंशन की उम्र घटाकर 60 साल कर दी और आमदनी की शर्त भी हटा दी। इससे लाखों वरिष्ठ नागरिकों को फायदा हुआ। सबको सामाजिक सुरक्षा मिले, इसके लिए केंद्र सरकार ने पेंशन और बीमा योजना शुरू की है।

हमने किसानों, मजदूरों, छोटे दुकानदारों को तीन हजार रुपए नियमित पेंशन मिलने का रास्ता बनाया। इस भावना को हिमाचल की भाजपा सरकार ने और आगे बढ़ाया। उन्होंने कहा कि आने वाला समय 5जी का है। हिमाचल के नौजवानों का और हिमाचल के जीवन का कायाकल्प 5जी से होगा। इससे दूर-दराज के स्कूलों में भी पढ़ाई, शहरों जैसी हो जाएगी।

मोदी ने कहा कि हम उम्र के आखिरी पड़ाव तक, महिलाओं की हर चुनौती को दूर करने का प्रयास कर रहे हैं। दशकों तक रही कांग्रेस की सरकार में सबसे ज्यादा उपेक्षित देश की महिलाएं और बहन-बेटियां थीं। वर्ष 2014 से पहले के दिन जनता ने देखे ही हैं।