बोह घाटी में भयंकर बाढ : पहाड़ी लोक गीतों की कलाकार ममता का शव मिला

शिमला। हिमाचल प्रदेश में हाल में कांगडा जिले के बोह घाटी में आई भयंकर बाढ में एक कलाकार की मौत हो गई। पहाड़ी लोक गीतों की कलाकार ममता की भी इस हादसे में मौत हो गई है। ममता का शव मंगलवार शाम को बरामद कर लिया था।

ममता एक बहुत अच्छी कलाकार थी। वे अब तक कई पहाड़ी, गद्दीयाली गानों में लीड रोल अदा कर चुकी है। इस हादसे में सबसे अधिक कहर भी ममता के परिवार पर ही ढहा है। हादसे में अभी तक ममता, उनकी माता व भाई का शव मिल चुका है, जबकि पिता और भाई अभी लापता बताए जा रहे हैं।

ममता का पूरा परिवार इस हादसे की चपेट में आ गया है। इस परिवार में सिर्फ ममता की बहन बची है, जो हादसे के समय अपने ससुराल में थी, जिस कारण उनकी जान बच गई। बताया जा रहा है हादसे से कुछ मिनटों पहले ही ममता ने अपने इंस्टाग्राम पर अपनी फोटो अपलोड की थी। ममता का घर सबसे ऊपर है। बारिश के चलते सभी लोग घर पर ही थे। चंद सैकेंड में आए मलबे ने पूरे घर को ही दफन कर दिया। घर का नामोनिशान नहीं रहा है।

ज्ञातव्य है कि सोमवार को हुई भारी बारिश के चलते बोह में 8 घर भूस्खलन की चपेट में आ गए थे। 15 लोग इस हादसे के बाद से लापता चल रहे थे जिनकी तलाश में रेस्क्यू अभियान जारी है। बोह में अभी तक कुल 10 लोगों के शव बरामद हो चुके हैं जबकि 5 लोगों को जिंदा निकालने में सफलता मिली है।