छोटू :- तुम ऑपरेशन कराए बिना ही हॉस्पिटल से क्यों भाग गए ?

छोटू :- तुम ऑपरेशन कराए बिना ही हॉस्पिटल से क्यों भाग गए ?
मोटू :- नर्स बार बार कह रही थी कि डरो मत, हिम्मत रखो, कुछ नहीं होगा.. ये तो बस एक छोटा सा ऑपरेशन है!
छोटू :- तो इसमें डरने वाली कौन सी बात है ? सही तो कह रही थी नर्स !
मोटू :- साले, वो मुझसे नहीं डॉक्टर से कह रही थी !!!

छोटू पहली बार 5 स्टार होटल में गया… झिझकते हुए चाय का आर्डर दिया….
कुछ ही मिनट में एक सजा धजा वेटर एक केतली में गर्म पानी, एक केतली में दूध, एक चाय पत्ती का पाउच और थोड़े चीनी के क्यूब देकर चला गया… संता ने जैसे तैसे चाय बना कर पी ली…
थोड़ी देर बाद वेटर आया और पूछा : would u like to have anything more, sir?
छोटू बोला : इच्छा तो बिरयानी खाने की भी थी, पर रहने दो … मुझे बनाना नहीं आता !!!

भिखारी: 5 रुपए का सवाल है बाबा !
छोटू: पूछो, शायद मुझे आता हो।
भिखारी: बेहोश …..छोटू rocks….

छोटू के हाथ में नया फोन देखकर मोटू बोला: नया फोन कब खरीदा?
छोटू: नया नहीं, गर्लफ्रेंड का है!
मोटू : गर्लफ्रेंड का फोन क्यूँ ले आया?
छोटू :रोज कहती थी, मेरा फोन नहीं उठाते..! आज मौका मिला, तो उठा लाया!!

मोटू wife को English सिखा रहा था।
दोपहर में Wife बोली, “Dinner लो जी”…..
मोटू– जाहिल औरत ये Dinner नही Lunch है….”
Wife – जाहिल तू, तेरा सारा ख़ानदान करमफूटे….ये रात का बचा हुआ खाना है… दिमाग मत दौड़ा, रोटी चरले।