जजपा जिलाध्यक्ष रमेश गोदारा पर विवाहिता से रेप का आरोप, पद से इस्तीफा

हिसार। हरियाणा की भारतीय जनता पार्टी नीत गठबंधन सरकार में शामिल जननायक जनता पार्टी के हिसार जिलाध्यक्ष रमेश गोदारा ने बलात्कार का आरोप लगने के बाद जिलाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है।

रमेश गोदारा ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट में लिखा है कि मेरे खिलाफ गहरी राजनैतिक साजिश रची गई है। मैंने अपने 60 वर्ष के जीवन में कोई गलत कार्य नहीं किया। मैं लंबे समय से सामाजिक और राजनैतिक जिम्मेदारी ईमानदारी से निभाता आया हूं। जो आरोप लगे हैं, उनकी जांच होगी, दूध का दूध, पानी का पानी होगा। मैं कानून की पालना करने वाला इंसान हूं और जांच में पूर्ण सहयोग देने का आश्वासन देता हूं। जांच में सहयोग देने व पार्टी की गरिमा को बरकरार रखते हुए मैं जेजेपी के जिलाध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे रहा हूं। मैंने अपना इस्तीफा पार्टी हाईकमान को सौंप दिया है।

उधर, 35 वर्षीय पीड़िता ने एक वीडियो जारी किया है, जिसमें उन्होंने आरोप लगाया है कि जजपा जिलाध्यक्ष रमेश गोदारा रिश्ते में उनका दादा लगता है, वह उन्हें 2017 में वह दवाई दिलाने के बहाने कालका लेकर गया था। रात में वह चंडीगढ़ स्थित एमएलए हॉस्टल में रुके। जहां खाना खाने के बाद उन्हें नींद आने लगी और बेहोशी की हालत में उनके साथ बलात्कार किया गया। पीड़िता का आरोप है कि गोदारा ने उनके फोटो और वीडियो भी बना लिए और उन्हें वायरल करने की धमकी देकर बाद में दो बार यौन शोषण किया।

पीड़िता जो शादीशुदा हैं, ने आरोप लगाया कि जजपा नेता ने उसकी शादीशुदा जिंदगी खराब कर दी। गुरुग्राम आकर उनका यौन शोषण करने के अलावा वह उन्हें गर्भपात गिराने की दवा भी देता रहा। पीड़िता ने बताया कि ससुराल वाले बच्चा नहीं होने पर उन्हें गर्भ ठहरने की दवा दे रहे थे और दूसरी तरफ आरोपी गर्भपात गिराने की दवा दे रहा था।

वह इन चीजों से तंग आ चुकी थीं और आखिर उन्होंने अपने पति को सब बातें बताईं। उसके बाद आरोपी के खिलाफ फोन पर सबूत जुटाए। आरोपी को इसका पता लगने पर वह ससुराल वालों को धमकाने लगा। जिसके बाद वह पिछले साल अपने मायके आ गईं और पति से अलग रहने लगीं। पीड़िता ने बताया कि वह अपने पति के साथ रहना चाहती हैं मगर आरोपी के डर के कारण मायके रह रही हैं।