अहमदाबाद : दलित युवक की हत्या मामले में सात आरोपी अरेस्ट

अहमदाबाद। गुजरात में अहमदाबाद जिले के मांडल क्षेत्र में दलित युवक की कथित ऑनर-किलिंग के मामले में सात आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

पुलिस उपाधीक्षक पीडी मनवर ने रविवार को बताया कि दलित युवक हरेश सोलंकी (23) की हत्या के आरोप में अब तक आठ में से सात आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है तथा आठ जुलाई को हरेश की हत्या के बाद उसकी पत्नी उर्मिला उसके एक रिश्तेदार के घर पर शनिवार की शाम सही सलामत मिल गई है।

उल्लेखनीय है कि अंतर्जातीय प्रेम विवाह के बाद आठ जुलाई को वधू पक्ष के लोगों द्वारा पुलिस की मौजूदगी में दलित प्रेमी की बेरहमी से सम्मन-हत्या कर दी गई। मूल रूप से कच्छ जिले के गांधीधाम निवासी युवक हरेश सोलंकी (23) ने लगभग आठ माह पहले अहमदाबाद जिले के मांडल के वरमोरा गांव की राजपूत (दरबार) जाति की युवती उर्मिला (22) के साथ विवाह कर लिया था।

वह एक निजी कंपनी में ड्राईवर का काम करता था और आंखें चार होने के बाद दोनों फरार हो गए थे। उर्मिला कुछ समय तक उसके घर पर रही और बाद में उसके पिता दर्शनसिंह झाला कथित शांति सुलह के बाद उसे अपने घर ले गए। उसके बाद से उसका फोन बंद था और उसका कोई पता नहीं चल पा रहा था।

इसके बाद आठ जुलाई को जब पुलिस की अभयम सेवा के जरिये हरेश पत्नी से मिलने वरमोर गया तो पहले तो दर्शन ने अच्छे से बात की पर बाद में अपने बेटे और अन्य छह रिश्तेदारों के साथ मिल कर उसकी लाठी डंडो से मारकर और गला रेत कर बेरहमी से हत्या कर दी।

इस दौरान वहां मौजूद रहे पुलिस कर्मियों ने भी भाग कर अपनी जान बचाई और बाद में आधी रात के बाद मामला दर्ज कराया। हरेश का गला कथित तौर पर उर्मिला के भाई इंद्रजीत ने धारदार हथियार से रेत दिया और उसकी मौत हो गई।