सहारनपुर में जहरीली शराब कांड में मृतक संख्या 90 हुई

Hooch Tragedy : Death Toll Rises to 90 in Saharanpur

सहारनपुर। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में तीन और लोगों की मृत्यु के साथ जहरीली शराब कांड में मृतकों की संख्या बढ़कर 90 हो गई है। अभी भी तीन दर्जन से ज्यादा लोगों का विभिन्न अस्पतालों में उपचार चल रहा है।

पुलिस सूत्रों ने आज यहां बताया कि देवबंद थाना क्षेत्र के शिवपुर गांव के धर्मपाल (50) पुत्र रतिराम की अस्पताल में मृत्यु हो गई। वहीं गागलहेड़ी थाना क्षेत्र के कोलकी कलां गांव में जॉनी पुत्र रघुवीर और नंगला अहिर गांव में कमल पुत्र पलटू ने सोमवार रात दम तोड़ दिया। इनके परिजन बिना पोस्टमॉर्टम कराए शवों को साथ ले गए।

इस बीच, जहरीली शराब कांड में एडीजी रेलवे संजय सिंघल की अध्यक्षता में गठित एसआईटी ने जांच शुरू कर दी है। आज शाम सिंघल खुद मृतकों के परिजनों से मिलकर बयान दर्ज कराएंगे। मंडलायुक्त सीपी त्रिपाठी ने बताया कि एसआईटी की जांच दस दिन में पूरी कर ली जाएगी। फिलहाल 36 मृतकों के आश्रितों को प्रशासन की ओर से 2-2 लाख रुपए के चेक सौंपे गए हैं।

गौरतलब है कि छह से 12 फरवरी के बीच जहरीली शराब पीने से प्रदेश के सहारनपुर और कुशीनगर व उत्तराखंड के हरिद्वार जिले के रुड़की में दर्जनों लोगों की मौत हुई थी। इनमें सबसे ज्यादा मौतें सहारनपुर जिले के गागलहेड़ी, नांगल और देवबंद थाना क्षेत्र के 16 गांवों में हुई।

सहारनपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी ने बताया कि अवैध शराब बेचने वालों के ठिकाने ध्वस्त करने और उनकी गिरफ्तारी के लिए जिले की पुलिस और हरिद्वार पुलिस संयुक्त अभियान चला रही है। उन्होंने दावा किया कि सभी शराब माफिया चिह्नित कर लिए गए हैं। उन्होंने बताया कि जहरीली शराब कांड में मुख्य रूप से 10 लोग शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि सहारनपुर के थाना गागलहेड़ी के पुंडेन गांव निवासी सरदार हरदेव सिंह, चुन्हेटी शेख गांव के सुखविंदर सिंह उर्फ सुक्खा, इनके साथी लाडी गांव निवासी गुरु साहब उर्फ लाडी, पुंडेन के निवासी टिंकू पुत्र धीरसिंह और चुन्हेटी शेख के निवासी सर्वेश गुप्ता उर्फ पिंकी गिरफ्तार किए गए हैं।

एसएसपी ने बताया कि जहरीली शराब बेचने वाले गिरोह में शामिल ग्राम पुंडेन निवासी लखविंदर उर्फ बाबा, भरतू निवासी ग्राम पुंडेन, ऋषिपाल निवासी ग्राम भलसावा थाना नांगल और अर्जुन निवासी ग्राम डाडली तेजपुर जिला हरिद्वार की तलाश पुलिस कर रही है।

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किए गए लाडी को दिसंबर में भी अवैध शराब बेचने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। एसएसपी ने बताया कि उत्तराखंड में गिरफ्तार किए गए सोनू को इन्हीं लोगों ने करीब 5.0 लीटर केमिकल में उतना ही पानी मिलाकर बनाई गई शराब उपलब्ध कराई थी।