बाराबंकी में भीषण सड़क हादसा, 18 बस यात्र‍ियों की मृत्यु, कई घायल

बाराबंकी। उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में लखनऊ-अयोध्या राष्ट्रीय राजमार्ग पर हुए भीषण सड़क हादसे में बस पर सवार 18 यात्र‍ियों की मृत्यु हो गई जबकि कई लोग घायल हैं।

पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने घटना स्थल से लौटने के आज सुबह बताया कि जिले के रामसनेहीघाट थाना क्षेत्र में लखनऊ-अयोध्या राष्ट्रीय राजामार्ग पर कल्याणी नदी के पुल पर रात करीब एक बजे डबल डेकर बस का एक्सल टूट गया। तेज बारिश के कारण बस को पुल पर ही सड़क किनारे खड़ी कर दिया।

उन्होंने बताया कि बाद में चालक और परिचालक बसकी मरम्मत करवा रहे थे। उसी दौरान लखनऊ की ओर से आ रहे तेज रफ्तार एक अनियंत्रित ट्रक ने बस में पीछे से टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जोरदार थी अधिकांश लोगों मौके पर ही मृत्यु हो गई।

उन्होंने बताया घायलों को अस्पताल ले जाया गया जहां डाक्टरों ने 11 लोगों को मृत घोषित कर दिया जबकि डॉक्टरों ने गंभीरता घायलों को लखनऊ ट्रामा सेंटर भेज दिया, जिसमें सात और लोगों ने दम तोड़ दिया। उन्होंने बताया कि बताया कि 15 से अधिक घायलों को लखनऊ और बाराबंकी अस्पताल में इलाज किया जा रहा है,जिसमें कुछ की हालत गंभीर बताई जाती है

उन्होंने बताया कि बस पर 65 यात्री सवार थे, जिसमें अधिकांश सीतामढी और सहरसा के रहने वाले हैं, कुछ लोगों के अभी बस के नीचे दबे होने की आशंका है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अभी तक 16 बस यात्रियों की शिनाख्त हुई है। मृतकों में सुरेश यादव, इंदल महतो, सिकंदर मुखिया, मोनू साहनी, जगदीश साहनी, जय बहादुर साहनी, बैजनाथ राम, बलराम शामिल है।

उन्होंने बताया कि हादसे के बाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर कई किलोमीटर तक लंबा जाम लग गया। तेज बारिश के कारण पुलिस को भी करीब आधे घंटे बाद घटना की जानकारी मिल सकी। हादसा रात करीब डेढ़ बजे हुआ। उन्होंने बताया कि एक निजी ट्रेवल्स की यह डबल डेकर बस हरियाणा से बिहार जा रही थी। हादसे के बाद ट्रक चालक मौके से फरार हो गया।

सूचना मिलने पर पुलिस, एसडीएम जितेंद्र कटियार और सीओ पंकज सिंह के नेतृत्व में बारिश के बीच पुलिस टीम ने स्थानीय लोगों की मदद से शवों को निकलवाने और घायलों को अस्पताल भिजवाने का काम शुरू किया। बस में सवार यात्री बिहार के सीतामढ़ी, सुपौल सहित अलग-अलग जिलों के रहने वाले हैं। उन्होंने बताया कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है।