क्या आपकी राखी की थाली में यह खास 7 खास चीजें थी ?

how-to-celebrate-raksha-bandhan-pooja-ki-jankari
how-to-celebrate-raksha-bandhan-pooja-ki-jankari

रक्षाबंधन विशेष | राखी का त्यौहार भाई बहन का पवित्र त्यौहार हैं । भारत में यह हर्षोल्लास से मनाया जाता है । दोस्तों इस बार यह पर्व 15 August स्वतंत्रता दिवस के दिन मनाया जाएगा । इस दिन दोनो पर्व एक साथ एक ही दिन होने के कारण दोहरी खुशियों की सौगात होगी । वही पूर्णिमा (purnima) के दिन गुरुवार पड़ने से इस बार शुभ योग बन रहा है साथ ही साथ इस दिन भद्रा काल न होने से दिन भर राखी बांधी जा सकती हैं ।

कैसे सजाये राखी

दोस्तो राखी बांधने से पहले बहन भाई के लिए थाल सजाती हैं इस थाली में 7 खास चीजें होनी चाहिए जैसे कुमकुम, चावल, नारियल, रक्षा सूत्र (राखी), मिठाई, दीपक, गंगाजल से भरा कलश आदि । इन 7 खास चीज़े का बहुत महत्व है तो आइए जानें :-

1. कुमकुम (kumkum) – बहन भाई को कुमकुम का तिलक लगाती है जो सूर्य से सम्बन्धित हैं । और दुआएँ करती है कि आने वाले साल में भाई को हर प्रकार का यश और ख्याति प्राप्त हो।

2. चावल(Rice) – पूजा में चावल को सबसे शुभ माना जाता है। बहन भाई को कुमकुम के तिलक के ऊपर चावल लगाती है, जो कि शुक्र ग्रह से सम्बन्धित है और दुआएँ करती है कि मेरे भाई के जीवन में हर तरह की शुभता आए और भाई से हमेशा प्रेम बना रहे।

3. श्रीफल (Shrifal) – इसको आम भाषा में नारियल कहा जाता है। यह राहु ग्रह से सम्बंधित है। बहन जब भाई को श्रीफल देती है तो इसका अर्थ है कि आने वाले वर्ष में भाई को सुख सुविधा के अवसर मिले।

4. रक्षा सूत्र (rakhi) – रक्षासूत्र हमेशा दाएँ हाथ (right hand) की कलाई पर बांधा जाता है। यह मंगल ग्रह से सम्बंधित है, जो कहता है कि बहन की दुआएँ हैं कि उसके भाई सभी मुश्किलों से उसकी रक्षा करें।

5. मिठाई (sweets) – बहन भाई को मिठाई खिलाती है जो कि गुरु ग्रह से सम्बंधित है, और दुआ करती है कि उसके भाई पर लक्ष्मी की कृपा रहे। भाई के पारिवारिक जीवन सुखद रहे।

6. दीपक (deepak) – फिर बहन भाई की दीपक से आरती करती है, जो शनि और केतु ग्रह से सम्बन्धित है और दुआएँ करती है कि मेरे भाई के जीवन में आने वाले रोग और कष्ट सभी दूर हों।

7. जल से भरा कलश (kalash) – फिर जल से भरे कलश से भाई की पूजा करें, जो कि चंद्रमा से सम्बंधित है, जिसमें बहन दुआएँ करती है कि मेरे भाई के जीवन में मानसिक शांति हमेशा बनी रहे।