संक्रमण से बचाने को बच्चों की इम्यूनिटी कैसे बढ़ाएं?

अजमेर। जब आपके बच्चे की इम्यूनिटी मजबूत होगी तो वह होने वाले आम संक्रमण से बचे रहेंगे। बच्चे की इम्यूनिटी अच्छी होती है तो वह पूरी तरह से स्वस्थ रहता है। आपको बतादें कि भारत में ऐसे कई बच्चे हैं जिनकी इम्यूनिटी बचपन से ही कमजोर होती है। उन बच्चों की इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आप अपने बच्चे को क्या खिलाएं इस बारे में जेएलएन अस्पताल अजमेर के सीनियर यूनानी मेडिकल ऑफिसर डॉ मोहम्मद रोशन कुछ टिप्स बताएंगे।

इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय

(1) खट्टे फल और पत्तेदार सब्जियां खिलाएं

यदि आप अपने बच्चे की इम्युनिटी बढ़ाना चाहते हैं तो उसे गाजर, बीन्स, संतरे, स्ट्रॉबेरी, संतरा, नींबू, अमरूद खिलाएं। खट्टे फलों में उच्च माञा में विटामिन-सी होता है पत्तागोभी, फूलगोभी, पालक, ब्रोकली, पार्सले, जैसी हरी पत्तेदार सब्जियां संक्रमण से लड़ने और बचाने में मदद करती है।

(2) ​सूखे मेवे और बीज खिलाएं

बादाम, अखरोट, पिस्‍ता, काूज और मूंगफली एवं बीज जैसे कि कद्दू के बीज, अलसी के बीज, चिया सीड्स और तिल के बीज प्रोटीन, हैल्‍दी फैट, फाइबर, विटामिन और खनिज पदार्थों को अच्‍छा स्रोत होते हैं। ये विटामिन ई से भरपूर होते हैं जो कि एक महत्‍वपूर्ण एंटीऑक्‍सीडेंट है और इम्‍यूनिटी बढ़ाता है।

(3) सोने का समय बढ़ाएं

आपके बच्चे के स्वस्थ विकास में नींद बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। यह बच्चे के इम्यूनिटी को मजबूत करने का काम करता है। नेशनल स्लीप फ़ाउंडेशन के अनुसार, 1 से 2 साल की उम्र के बच्चों को प्रति रात 11 से 14 घंटे की नींद की ज़रूरत होती है, 3 से 5 साल के बच्चे को प्रति दिन 11 से 13 घंटे की नींद की ज़रूरत होती है। अगर हम स्कूली बच्चों की बात करें तो 15 साल की उम्र के बच्चों को 9 से 11 घंटे की नींद की जरूरत होती है। आपके बच्चे के सोने वाले कमरे में अँधेरा होगा तो उसे बहुत अच्छी नींद आएगी।

(4) व्यायाम कराएं

आपको अपने बच्चे को व्यायाम और योग के लिए प्रेरित करना चाहिए। रोजाना लगभग 30 मिनट के लिए चलना, दौड़ना, जॉगिंग या साइकलिंग करना पूरे परिवार के लिए बेहतरीन शारीरिक व्यायाम हैं। इसके अलावा आप अपने बच्चे को उसके पसंद के अनुसार स्विमिंग, टेनिस क्लास या अन्य किसी खेल के लिए भेज सकते हैं।

(5) बच्चों इम्युनिटी बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय

1 नियमित रूप से अपने बच्चे को हल्दी दूध पिलाएं, खासकर फ्लू के मौसम में। इस दूध को तैयार करने के लिए, एक कप दूध में ¼ या आधा चम्मच हल्दी पाउडर और थोड़ा काली मिर्च मिलाकर और उबाल लें। स्वाद के लिए थोड़ा सा कच्चा शहद भी मिला सकते हैं।

2 तुलसी की पत्तियों को धो लें और अपने बच्चे को रोज़ाना चबाने के लिए दें। हफ्ते में कई बार इसे बच्चे को चबाने के लिए दें।