यहाँ से पढ़े IA EXAM 2018 TOPIC Computer Architecture

Computer 4 Units से मिलकर बना होता है – Input unit, System Unit, Output unit तथा Memory Unit.

1-Input unit

Input unit में कंप्यूटर के वह भाग होते हैं जिनके माध्‍यम से कंप्‍यूटर में कोई Data enter किया जा सकता है. साथ ही कंप्‍यूटर को कोई Command या Instructions देते हैं. ऐसी सभी Devices Input devices कहलाती है. Input Device कई प्रकार की होती है जैसे – Keyboard, Mouse, Joystick, Trackball, Light pen आदि.
अतः “Input Unit वे Device है जो हमारे निर्देशों या आदेशों को Computer के मष्तिष्क, सी.पी.यू. (C.P.U.) तक पहुचाते हैं|”

2- System unit

यह System Unit ही C.P.U. कहलाती है जिसका पूरा नाम Central Processing Unit हैं. इस CPU को ही Microprocessor कहा जाता है. इस System Unit या C.P.U. का मुख्य कार्य होता है Input unit द्वारा मिले  Commands या Instructions को Process करना और उससे प्राप्त Result को Output unit तक भेजना.  इस कार्य के लिये CU और ALU दोनों मिलकर अंकगणितीय गणना (Arithmetic Calculation) और तार्किक गणना (Logical Calculation) करते हैैं और डाटा को Process करते हैं.  इस प्रकार से इसका मुख्य कार्य Programs को Execute करना है तथा इसके आलावा C.P.U Computer के अन्य सभी भागो, जैसे- Memory, Input, Output Devices के कार्यों को भी नियंत्रित करता हैं. CPU को ही Computer का मष्तिस्क (Mind) भी कहते है.

इस System Unit या C.P.U के भी तीन भाग होते है – 1.  CU        2.   ALU       3.  Registers

  1. C.U. (Control Unit) :- C.U. का पूरा नाम Control Unit होता हैं. इस Unit का मुख्‍य काम सारे Computer को Control करना होता है। CPU का ये भाग Computer की आंतरिक प्रक्रियाओं का संचालन करता है। यह Input/Output क्रियाओं को Control करता है, साथ ही ALU व Memory के बीच Data के आदान-प्रदान को निर्देशित करता है। यानी CPU का यही भाग इस बात को तय करता है कि कोई Program किस प्रकार से Run होगा और किसी प्रकार से Run होने वाले Program के आधार पर Processed Data यानी Output Return करेगा। यह Program को Execute करने के लिए Program के Instructions को Memory से प्राप्त करता है और इन Instructions को Electrical Signals में Convert करके उचित Devices तक पहुंचाता है, जिससे Data पर Processing हो सके और Processing के बाद Data को वापस Memory में Store करने के लिए भेजता है।

2. A.L.U (Arithmetic Logic Unit) :- यह यूनिट डाटा पर Arithmetic Calculations (जोड़, घटाना, गुणा, भाग) और Logical Operation (तार्किक क्रियायें) करती हैं। A.L.U. Control Unit से निर्देश या मार्गदर्शन लेता है, Memory से Data प्राप्त करता है और परिणाम को या Processed Data को वापस Memory में ही Store करता है। A.L.U के कार्य करने की गति (Speed) अति तीव्र होती हैं। यह लगभग 1000000 गणनाये प्रति सेकंड (Per Second) की गति से करता हैं। इसमें ऐसा  Electronic Circuit   होता है जो  Binary Arithmetic  की गणनाएं करता है।

पुरे कोर्स के लिए विजिट करिये iaexam2018.in और डिस्काउंट के लिए अपना यूजर नेम sabguru लिख कर बनाइये

ex: sabguru-ramesh full IA course by sabguru 99/- 75/- only