ऑक्सीजन की कमी : वायु सेना ने संभाला मोर्चा देश और विदेश से भरी उडान

नई दिल्ली। देश में कोरोना महामारी के बढते प्रकोप के मद्देनजर ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने के लिए चलाये जा रहे विभिन्न अभियानों में वायु सेना ने भी मोर्चा संभाल लिया है और ऑक्सीजन की आपूर्ति में मदद के लिए आज उसके विमानों तथा हेलिकॉप्टरों ने देश तथा विदेश से कई उडान भरी।

वायु सेना का एक सी -17 विमान तड़के 2 बजे सिंगापुर के चांगी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के लिए हिंडन एयर बेस से रवाना हुआ। विमान सुबह पौने आठ बजे सिंगापुर पहुंचा। चार खाली क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनरों को लोड करने के बाद, यह विमान कंटेनरों को पानागढ़ एयर बेस के लिए रवाना हुआ।

एक और सी -17 विमान हिंडन एयर बेस से सुबह आठ बजे पुणे एयर बेस के लिए रवाना हुआ था जहां से दो खाली क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनर ट्रकों को विमान पर लादा गया था, जिसने बाद में जामनगर एयर बेस के लिए उड़ान भरी। इससे पहले एक अन्य सी-17 विमान ने आज दिन में दो खाली कंटेनर जोधपुर से जामनगर पहुंचाए थे।

एक चिनूक हेलीकाप्टर और एक एन-32 सैन्य परिवहन विमान ने कोविड परीक्षण उपकरण क्रमशः जम्मू से लेह और जम्मू से करगिल तक पहुंचाए। उपकरणों में बायो सेफ्टी कैबिनेट, सेंट्रीफ्यूज और स्टेबलाइजर्स शामिल थे। इन मशीनों को वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) द्वारा बनाया गया है और अब जांच क्षमता को बढ़ाने के लिए इन्हें केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख को दिया गया है।

सशस्त्र सेनाएं नागरिक प्रशासन की हरसंभव मदद कर रही हैं : राजनाथ सिंह

रेलवे ने 24 घंटे में 150 टन ऑक्सीजन पहुंचाई, हजारों की जान बचाई