क्रिकेट शुरू करने के लिए आईसीसी ने जारी किए दिशा निर्देश

दुबई। कोरोना के कारण स्थगित पड़े क्रिकेट को फिर से पटरी पर लाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने दिशा निर्देश जारी किया हैं और अपने सदस्य देशों को इनका पालन करने के लिए कहा है।

आईसीसी के दिशा-निर्देशों का उद्देश्य क्रिकेट को सभी स्तरों सामुदायिक, घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर शुरू करना है। सभी देशों में सरकारें कोरोना के कारण लगे प्रतिबंधों में ढील देना शुरू करेंगी और क्रिकेट को वापस पटरी पर लाया जा सकेगा।

इन दिशा निर्देशों को आईसीसी की चिकित्सा सलाहकार समिति ने सदस्य चिकित्सा प्रतिनिधियों के साथ बातचीत के बाद तैयार किया है जिसकी सिफारिशें इस प्रकार हैं:

-मुख्य चिकित्सा या बायो सुरक्षा अधिकारी की नियुक्ति जो यह सुनिश्चित करे कि जब खिलाड़ी ट्रेनिंग पर लौटें तो सरकार के दिशा निर्देशों का पालन हो।

-मैच से पूर्व आइसोलेशन ट्रेनिंग कैंप हो जहां तापमान की निगरानी और कोविड-19 टेस्टिंग के साथ यात्रा से पूर्व 14 दिनों का क्वारंटीन हो।

-अभ्यास और मैच के दौरान टेस्टिंग प्लान हो।

-सम्बंधित क्रिकेट बोर्ड क्रिकेटरों के लिए सुरक्षित माहौल तैयार करें जो ट्रेनिंग और मैच स्थल दोनों के लिए हो। -सभी क्रिकेटर हमेशा डेढ़ मीटर का फासला बनाए रखें।

-निजी सामान और उपकरणों का सेनेटाइजेशन हो।

-खिलाड़ी तैयार होकर मैदान में पहुंचे और साझा सुविधाएं जैसे शॉवर्स और चेंजिंग रूम का इस्तेमाल न करें।

-मैच स्थिति में हर स्थल पर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध रहें। डॉक्टर को बुलाने की सुविधा हो और पर्याप्त चिकित्सा स्टाफ रहे।

-मुंह की लार के गेंद पर इस्तेमाल पर रोक के बाद खिलाड़ियों को गेंद को लेकर स्पष्ट दिशा निर्देश हों।

-खिलाड़ी अपनी कैप, टॉवल या स्वेटर ओवरों के बीच में अम्पायर को नहीं दें।

-अम्पायर गेंद को संभालते वक्त दस्तानों का इस्तेमाल करें।

-यात्रा के लिए अपनी सरकार के निर्देशों का पूरी तरह पालन करें।

-चार्टर्ड फ्लाइट्स का इस्तेमाल करें और दूरी बनाए रखें।

-टीमें होटलों में अपने निर्धारित फ्लोर पर ही रुकें।

-ट्रेनिंग के लिए निर्धारित चरणों का पालन करें।

-क्रिकेट बोर्ड अपने दल को बड़ा रखें ताकि खेल शुरू होने पर जरूरतों को पूरा किया जा सके।