बैंक में अकाउंट कैसे खोले और इसमें कितना समय लगता है

icici bank mai account khulwane mai kitna samay lagta hai, icici bank mai account khulwane ke liye documents application, bank mai account kaise khole
icici bank mai account khulwane mai kitna samay lagta hai, icici bank mai account khulwane ke liye documents application, bank mai account kaise khole

यदि आप भी बैंक में अकाउंट खुलवाने जाते हैं तो आपके मन में सबसे पहले यह सवाल आता है कि आखिर बैंक में अकाउंट खोलने में कितना समय लगेगा। आज से काफी साल पहले बैंक अकाउंट खोलने में कई दिन लग जाते थे और यदि बात सरकारी बैंक की हो तो समय कई बार ज्यादा भी लग जाता था। लेकिन आज की ऑनलाइन दुनिया में जहां पर इंटरनेट की गति इतनी ज्यादा तेज है कि हमारे काम करने की गति धीमी पड़ जाती है। और वही यदि आप बैंक में नया अकाउंट खुलवाना चाह रहे हैं तो आपको बहुत ही कम समय में अपना अकाउंट ओपन मिल जाएगा।

घर बैठे बैंक अकाउंट कैसे खुलता है ?

कई विज्ञापन में यह भी दिखाया जाता है कि आज के समय में आप बिना बैंक जाए भी अपना अकाउंट खोल सकते हैं लेकिन इस तरह की सुविधा हर आम आदमी के लिए नहीं है क्योंकि जब आपका अकाउंट घर बैठे खोला जाता है तो यह आपके अकाउंट के श्रेणी पर भी निर्भर करता है कि आप किस प्रकार का अकाउंट खोल रहे हैं।

यदि आप कॉरपोरेट लेवल का या बड़ा अमाउंट रखने के हिसाब से अपना अकाउंट खुलवा रहे हैं तो आपको बैंक की तरफ से इस प्रकार की सुविधा मिलती है। बाकी फिलहाल इस तरह की सुविधा हर आम आदमी के लिए मौजूद नहीं है।

लेकिन हो सकता है भविष्य में इस तरह की सुविधा सभी के लिए मौजूद हो फिर भी कई ऐसे बैंक है जोकि ऑनलाइन ही बैंक अकाउंट खुलवा देते हैं फिर भी कुछ वेरिफिकेशन आपको फिजिकल ही कराने पड़ते भले से ही बैंक की तरफ से कोई एग्जीक्यूटिव आपके पास आए या फिर आप को बैंक जाना पड़े।

प्राइवेट बैंक में अकाउंट कैसे खोले और इसमें कितना समय लगता है ?

आज इस लेख में केवल बात करने वाले हैं प्राइवेट बैंक के बारे में कि आखिर प्राइवेट बैंक में अकाउंट खोलने में कितना समय लगता है। अगर बात की जाए बैंकों की तो प्राइवेट बैंक में आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक, कोटक बैंक, और कई अन्य बैंक भी शामिल हैं। जिसमें से आईसीआईसी बैंक में अपनी अकाउंट खोलने की गति काफी तेज कर रखी है। यदि आप किसी भी आईसीआईसी बैंक की शाखा में विजिट करते हैं और आप अपना बैंक अकाउंट खोलना चाहते हैं तो आपका अकाउंट मात्र 1/2 से 1 घंटे के अंदर अंदर खुल जाएगा जिसके लिए आपको केवल कुछ आवश्यक दस्तावेज उन्हें देने होंगे और कुछ ही समय में आपका अकाउंट एक्टिव भी हो जाएगा इसके लिए आपको क्या क्या दस्तावेज देने होते हैं आप नीचे देख सकते हैं।

बैंक अकाउंट खुलवाने के लिए जरुरी दस्तावेज़

पैन कार्ड: पैन कार्ड एक आवश्यक दस्तावेज है जिसके चलते बैंक वाले आपके फाइनेंस स्टेटस का पता लगा लेते हैं और यह जरूरी भी है और यह बड़ी ही आसानी से बन जाता है।

आधार कार्ड: आधार कार्ड यानी यूआईडी आज के समय में बहुत ही काम का दस्तावेज है जो कि लगभग हर सरकारी और गैर सरकारी रजिस्ट्रेशन के लिए आवश्यक हो चुका है। आपको यह ध्यान रखना है कि आप जो भी आधार कार्ड दे रहे हैं उसी आधार कार्ड के पते पर आपका चेक बुक एटीएम कार्ड आपको प्राप्त होगा और आगे की सारी कार्रवाई उस पते पर की जा सकती है।

नोट: यदि आपका आधार कार्ड का पता बदल चुका है तो इससे पहले अपडेट करवाएं उसके बाद ही इस आधार कार्ड का उपयोग करें

फोटो: पहले के समय में आपको फोटो अपनी तरफ से प्रिंट करवा कर ले जाकर देनी होती थी लेकिन आज के समय में बैंक की तरफ से तो ही आपका फोटो ले लिया जाता है। इसके लिए बैंक वालों के पास अपने बैंक की एप्लीकेशन होती है जिसके द्वारा वह आपका रजिस्ट्रेशन पूरा करते हैं। ध्यान रखियेगा यदि आप अकाउंट खुलवाने जा रहे हैं तो अच्छे से तैयार होकर जाएगा ताकि आपका फोटो अच्छा है आए।

आपके हस्ताक्षर : आपके हस्ताक्षर तो बिल्कुल आवश्यक होते ही हैं लेकिन आपको हस्ताक्षर के बारे में एक बात बता देते हैं कि हस्ताक्षर वही करें जो आप हमेशा इस्तेमाल करते हैं आपके पैन कार्ड पर किए गए हस्ताक्षर हो सकता है अलग है लेकिन आमतौर पर बैंक की तरफ से इस प्रकार की कोई भी बंदिश नहीं होती कि आपने जो पैन कार्ड पर हस्ताक्षर किए हैं आपको बैंक के दस्तावेज पर भी करने होंगे आप अपनी तरफ से जो हस्ताक्षर इस्तेमाल करते हैं उसे हस्ताक्षर को बैंक के दस्तावेज में इस्तेमाल कर सकते हैं।

बिज़नेस बैंक अकाउंट हेतु दस्तावेज़

यदि आप बैंक में व्यापारिक अकाउंट खुलवाने जा रहे हैं तो उपर पर दिए गए सभी दस्तावेज आप को लेकर जाने हैं साथ में आपके व्यापार की जानकारी हेतु आपको अपने व्यापार का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट और यदि आपके पास जीएसटी नंबर है तो वह भी आपको बैंक में देना होगा।

उम्मीद करते हैं इसके बाद आपके लिए अपना बैंक अकाउंट खोलना बड़ा ही आसान हो जाएगा हालांकि इस लेख में केवल प्राइवेट बैंक के बारे में बताया गया था लेकिन प्राइवेट और सरकारी दोनों बैंक में एक ही प्रकार का प्रक्रिया होती है लेकिन कभी-कभी समय का फर्क पड़ जाता है प्राइवेट बैंक में सरकारी बैंक की अपेक्षा काम थोड़ा सा तेजी से होता है क्योंकि प्राइवेट बैंक आज के समय के हिसाब से अपनी सिस्टम और एप्लीकेशन को अपग्रेड करता रहता है।

कौनसा बैंक अच्छा होता है सरकारी बैंक या प्राइवेट बैंक ?

वहीं अगर विश्वास की बात की जाए तो लोग आज भी सरकारी बैंक को ज्यादा प्राथमिकता देते हैं क्योंकि सरकारी बैंक लेकर या मान्यता है किस बैंक में कभी भी पैसा डूबेगा नहीं हालांकि गैर सरकारी बैंक कभी ऐसा कोई भी इतिहास नहीं है जिसमें सरकारी बैंक डूब गया फिर भी सरकारी बैंक को ज्यादा प्राथमिकता दी जाती है लेकिन यदि बात करें वहां की सिस्टम की तो आज सरकारी और गैर सरकारी दोनों ही बैंक एक दूसरे को चुनौती देने पर खड़े हैं।